कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान

Spread the love

कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान – कालसर्प दोष के दुष्प्रभाव के बारें में तो आपने बहुत सुना होगा। लेकिन क्या आप जानते हैं की कालसर्प दोष के फायदे भी हैं। कालसर्प दोष के चलते व्यक्ति के जीवन में परेशानियां किसी सर्प की भांति मुंह उठाएं खड़ा रहता हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, कालसर्प दोष तब निर्मित होता हैं जब राहु और केतु के ठीक बीच सभी ग्रह स्थित होते हैं। ऐसे में इस दोष से प्रभावित व्यक्ति पर नकारात्मक प्रभाव ज्यादा पड़ता हैं। काल सर्प दोष की स्थिति में व्यक्ति की आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय हो जाती हैं की २ वक्त का भोजन जुटा पाना मुश्किल होने लगता हैं। हालांकि शास्त्रों के अनुसार इसके कुछ फायदे भी हैं। आइये आपको बताते हैं की किन स्थितियों में कालसर्प दोष फायदेमंद हैं।

कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान
कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान

यही नहीं नौकरी, व्यवसाय और शादी-विवाह में सैकड़ों किस्म की परेशानियां आने लगती हैं। संतान के साथ पेरेंट्स के रिलेशन खराब होने लगते हैं। अजीबोगरीब और डरावने सपने व्यक्ति को परेशान करने लगते हैं। इसके बावजूद कालसर्प दोष के कुछ फायदे भी हैं। इसलिए आइए विस्तार से कालसर्प दोष के फायदे और नुकसान के बारें में जानते हैं।

कालसर्प दोष के फायदे और नुकसान

माना जाता हैं की कालसर्प दोष के कारण जीवन में आने वाली परेशानियां पिछले जन्मों के बुरे कर्मों का दंड हैं। जब कोई व्यक्ति इस दोष का शिकार होता हैं तो जीवन में सभी चीजें आपके चाहने के विपरीत घटित होने लगती हैं। राहू और केतु को बुरा ग्रह माना जाता हैं जिसका प्रभाव जिस किसी भी व्यक्ति के उपर पड़ता हैं उसकी मानसिक, शारीरिक और आर्थिक स्थिति बद से बद्दत्तर हो जाती हैं। कालसर्प दोष के प्रभाव को कम करने के लिए ज्योतिष शास्त्र में अनेकों प्रभावी उपाय बताएं गए हैं। खैर सबसे पहले कालसर्प दोष के फायदे और नुकसान के बारें में जानते हैं।

कालसर्प दोष के फायदे

कालसर्प दोष हमेशा ही नुकसानदायक नहीं हैं। दरसल ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जब किसी व्यक्ति के कुंडली में सूर्य, बुध, शनि, शुक्र, चन्द्रमा या मंगल कालसर्प मुख में या राहू के साथ पहले, दुसरे, तीसरे, दसवें या बारहवें स्थान में होता हैं तो ऐसी स्थिति में जातक को नुकसान के बजाय लाभ होने के चांसेज बढ़ जाते हैं। शास्त्र के अनुसार, ऐसे व्यक्ति का जीवन बड़ा ही सुखमय व्यतीत होता हैं। जातक का कारोबार और जॉब बिना किसी परेशानी के आगे बढ़ता हैं। समाज में ऐसे व्यक्ति को बड़ा ही आदर और सम्मान प्राप्त होता हैं। शुक्र का कालसर्प मुख में होना विवाह के लिए अच्छा माना जाता हैं। पति-पत्नी का संबंध बहुत ही मधुर बना रहता हैं। वही शनि का कालसर्प मुख में उपस्थित होना व्यक्ति की सोचने समझने की शक्ति को बढ़ावा देता हैं।

बुध और चन्द्रमा के साथ राहू की शुभ स्थिति शिक्षा और सफलता से जुड़ा हैं। ऐसे व्यक्ति को समय से पहले ही लक्ष्य प्राप्त होता हैं। ज्योतिष के अनुसार, कालसर्प दोष किसी कभी-कभी उन लोगों को भी बेहद अमीर बना देता हैं जिनके पास खाने तक के पैसे नहीं हैं। मंगल ग्रह जब राहू के साथ होता हैं तो ऐसी स्थिति में व्यक्ति जल्दी हार नहीं मानता हैं। अपने साहस और परिश्रम से सभी को चौका देने की क्षमता रखते हैं।

यह भी पढ़ें बड़ों की नजर कैसे उतारे / झाड़ू, कपूर और चप्पल से नजर उतारने के उपाय

कालसर्प दोष के नुकसान

कालसर्प दोष के नुकसान
कालसर्प दोष के नुकसान

कालसर्प दोष के कारण होने वाले नुकसान अनगिनत हैं। शास्त्रों के अनुसार जब कोई व्यक्ति इस दोष का शकर होता हैं तो उसके जीवन में अशुभ घटनाओं का सिलसिला शुरू हो जाता हैं। कालसर्प दोष के निम्नलिखित नुकसान संभव हैं :-

  • पुत्र या पुत्री के साथ रिलेशन अत्यंत ही खराब हो जाना
  • विवाह पूर्व और विवाह के बाद का जीवन बेरस लगना
  • अत्यधिक कर्ज में डूबना और पैसे की किल्लत होना
  • शादी के बाद पार्टनर के साथ रिलेशन खराब होना
  • खूब मेहनत करने के बावजूद भी कोई परिणाम न निकलना
  • हमेशा मानसिक तनाव और शारीरिक कष्ट रहना
  • जॉब और व्यवसाय से लाभ के बजाय हानि होना
  • बिना वजह समाज में इज्जत खो देना
  • सपने में भयावह और खतरनाक चीजे देखना
  • अचानक से कोई बड़ा एक्सीडेंट या दुःखद समाचार मिलना

ऊपर बताएं गए लक्षण कालसर्प दोष के नुकसान के रूप में दिखाई देते हैं। अलग-अलग लोगों में इसके लक्षण में विविधता देखी जा सकती हैं। इस दोष को दूर करने के लिए कुछ विशेष उपाय बताएं गए हैं। आइए विस्तार से कालसर्प दोष के निवारण जानते हैं।

यह भी पढ़ें प्रति सोमवार व्रत में क्या खाना चाहिए – सोमवार व्रत के नियम और लाभ

कालसर्प दोष के निवारण का उपाय

  • हर शनिवार काले कुत्ते को रोटी देने से कालसर्पदोष का प्रभाव धीरे-धीरे कम होने लगता हैं।
  • अगर आपकी स्थिति बेहद दयनीय हैं तो सोमवार के दिन १००१ बार शिव मन्त्र का जाप लगातार करें।
  • इस दोष को समाप्त करने के लिए भगवान विष्णु की पूजा कर नाग वाली अंगूठी कनिष्ठा ऊँगली में पहने।
  • प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ भी कालसर्प दोष के प्रभाव को नष्ट करेगा।
  • इस दोष से पीड़ित व्यक्ति को नाग पूजा जरुर करनी चाहिए। नाग पूजा करने के पश्चात भगवान विष्णु और शिव जी को जल अवश्य चढ़ाएं
  • ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि मंत्र का जाप करने से भी इस दोष से छुटकारा मिलेगा।

यह भी पढ़ें सभी ग्रहों का एक ही उपाय – सभी ग्रहों को शांत करने के उपाय

निष्कर्ष – कालसर्प दोष के फायदे

कालसर्प दोष के फायदे क्या हैं इसके बारें में विस्तार से इस पोस्ट में बताया गया हैं। कालसर्प दोष के कभी-कभी ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं जो व्यक्ति की समझ से बिल्कुल पड़े होता हैं। कालसर्प दोष में चारों तरफ से अशुभ समाचार ही सुनने को मिलते हैं। हालाँकि शास्त्रों के अनुसार इस दोष के निवारण की पूजा या उपाय करने के बाद व्यक्ति का जीवन फिर से पटरी पर आने लगता हैं। अत: इस दोष से ग्रसित होने पर ज्यादा मष्तिष्क पर भार देने की जरूरत नहीं हैं। कालसर्प दोष के निवारण का उपाय करने के बाद आपका जीवन पहले से भी बेहतर हो जाएगा।

मुझे उम्मीद हैं की आपको आज की यह पोस्ट ” कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान ” बहुत अच्छी और उपयोगी लगी होगी। इस पोस्ट को उन लोगों शेयर कर पुन्य के भागी बने जो इस दोष से कई महीनों से ग्रसित हैं। अगर कुंडली नहीं हैं तो लक्षणों के आधार पर भी इस दोष को पहचाना जा सकता हैं।

यह भी पढ़ें अगर हनुमान चालीसा के शक्ति देखना चाहते हैं तो,सुबह उठकर ऐसे पढ़ ले हनुमान चालीसा और देखें चमत्कार

2 thoughts on “कालसर्प दोष के फायदे कर देंगे आपको हैरान”

Leave a Comment