ओआरएस पाउडर के फायदे और नुकसान – जाने ओआरएस पाउडर बनाने की विधि

Spread the love

ओआरएस पाउडर के फायदे और नुकसान – ओआरएस का मतलब हैं Oral Rehydration Solution । इसका उपयोग दस्त में या शरीर में पानी के अवशोषण में सुधार हेतु किया जाता हैं। जब शरीर में पानी की कमी होने लगती हैं तो व्यक्ति की हालत अत्यंत नाजुक हो जाती हैं। यह शरीर में पानी की कमी को पूरा करने में मदद करता हैं। ओआरएस कोई भी पि सकता हैं। ओआरएस पाउडर बच्चे से लेकर बूढ़े व्यक्ति तक पि सकते हैं। यह शरीर के कई बीमारियों से आपको बचाता हैं। अगर कोई व्यक्ति डायरिया से जूझ रहा हैं तो उसे ORS का घोल जरुर पीना चाहिए।

ओआरएस पाउडर के फायदे और नुकसान  - जाने ओआरएस पाउडर बनाने की विधि
ओआरएस पाउडर के फायदे और नुकसान  – जाने ओआरएस पाउडर बनाने की विधि

ओआरएस पाउडर क्या हैं?

दोस्तों ओआरएस पाउडर में सोडियम और पोटाशियम होता हैं जो शरीर को पानी अवशोषित करने में मदद करती हैं। दस्त की समस्या में ओआरएस पाउडर रामबाण इलाज की तरह कार्य करता हैं। क्योकिं दस्त की स्थिति में शरीर पानी को अवशोषित करने में सक्षम नहीं होता हैं। पानी की कमी की वजह से शरीर धीरे-धीरे कमजोर होने लगता हैं जो कई अन्य बड़ी समस्या को जन्म दे सकता हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार हर साल 1।5 मिलियन लोग दस्त की वजह से मर जाते हैं। मरने वालों में ज्यादात्तर बच्चे शामिल हैं। यह संख्या तो सिर्फ अस्पताल में हुई मौतों की हैं। लेकिन सच्चाई और भी भयावह हैं।

Also, Read सरसों के तेल में लहसुन मिलाकर लगाने के फायदे

ओआरएस पाउडर के फायदे

जैसा की मैंने आपको बताया ओआरएस पाउडर का घोल शरीर में पानी की कमी को पूरा करने में सहयोग करता हैं। यह मुख्य रूप से दस्त की समस्या में उपयोग में लाया जाता हैं। डिहाइड्रेशन की स्थिति में इस घोल को पीने से आंत पानी को जल्दी और ज्यादा मात्रा में अवशोषित कर पाता हैं। डिहाइड्रेशन की समस्या ज्यादा गर्मी या पानी न पीने वाले व्रत के कारण उत्पन्न हो सकती हैं। इन सबके अलावे यह शरीर की कमजोरी और थकान को दूर कर उर्जावान बनाता हैं।

ओआरएस बनाने की विधि

कई बार दस्त की समस्या अचानक रात में शुरू हो जाती हैं। ऐसे समय में न तो दवा की दुकान खुली होती हैं और न ही किसी डॉक्टर से मिलना संभव होता हैं। ऐसे में ओआरएस पाउडर खरीदना पॉसिबल नही होता हैं। नीचे मैंने आपको ओआरएस बनाने की विधि बताई जिससे आप आसानी से घर पर ही ओआरएस का घोल बना सकते हैं।

Also, Read मुल्तानी मिट्टी के नुकसान और फायदे हैरान कर देगा

नेशनल हेल्थ पोर्टल के द्वारा बताया गया तरीका

बनाने के लिए एक बड़ा जग लें। अब जग में 1 लिटर पानी के साथ उसमें 6 चम्मच पानी मिक्स करके अच्छे से मिलाएं। अब इस मिश्रण में थोड़ा नमक लगभग आधा चम्मच डालकर मिला दे। अब यह सलूशन तैयार हैं। इसे थोड़ा-थोड़ा करके रोगी को पिलायें।

ओआरएस पाउडर के नुकसान

दोस्तों ओआरएस पाउडर के साइडइफेक्ट्स न के बराबर देखने को मिलते हैं। लेकिन कुछ मामलों में इसके मामूली नुकसान हो सकते हैं। ओआरएस पाउडर के साइडइफेक्ट्स में जी मिचलाना। त्वचा से जुड़ी समस्या आदि हो सकते हैं। लेकिन यह बिल्कुल साधारण होते हैं जो कुछ घंटों में स्वत: ठीक हो जाते हैं। अगर आप डायबिटीज के रोगी हैं तो इसके सेवन से पहले चिकित्सक की सलाह जरुर लें। दरसल इसमें चीनी होता हैं जो मधुमेह रोगियों के लिए उचित नहीं हैं। ध्यान रहें की अगर आप ओआरएस पाउडर के घोल को भी नहीं पचा पा रहे हैं और बार-बार आपको उल्टी हो रही हैं तो डॉक्टर से मिलकर सलाह ले और दवा का सेवन करें।

खासकर 2 साल से कम के बच्चे को अगर ORS के घोल से लाभ नहीं मिलता तो देरी बिल्कुल न करें। इस स्थिति में जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलकर इस समस्या का समाधान निकालना चाहिए।

Also, Read इसबगोल खाने के फायदे

ओआरएस का घोल कब लेना चाहिए – ओआरएस पाउडर

ओआरएस पाउडर का घोल आप कभी भी ले सकते हैं। यह दस्त की समस्या और कमजोरी के लिए रामबाण इलाज हैं। इससे शरीर में तत्काल ही पानी की कमी दूर होती हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों ओआरएस पाउडर शरीर में पानी की पूर्ति कर आपके जीवन की रक्षा करता हैं। ओआरएस पाउडर घर पर न होने की स्थिति में आप घर पर ही इसका घोल तैयार कर सकते हैं। इसका घोल आप पानी नमक और चीनी की मदद से बना सकते हैं। इसका घोल शरीर जल्द ही अवशोषित कर लेता हैं जिससे शरीर डिहाइड्रेशन का शिकार होने से बच जाता हैं। ओआरएस पाउडर के फायदे ही फायदे हैं लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हैं जो की बिल्कुल साधारण हैं। आप डॉक्टर से पूछकर इसका सेवन कर सकते हैं।

ओआरएस पाउडर के नुकसान और फायदे की इस पोस्ट में मैंने आपको विस्तार से ओआरएस पाउडर के बारें में बताया हैं। अगर यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो इस आर्टिकल को जरुर से जरुर शेयर करें।

Also, Read इलायची खाने के फायदे (Elaichi Khane Ke Fayde)