किन्नर की पहचान क्या हैं / किन्नर को पैसे देने से क्या होता है

Spread the love

किन्नर की पहचान क्या हैं / किन्नर को पैसे देने से क्या होता है – अक्सर लोग यह जानने की कोशिश करते हैं की किन्नर की पहचान क्या हैं और किन्नर से आशीर्वाद लेना क्यों फलदायी माना जाता हैं। किन्नरों को आप अक्सर रोड किनारे या ट्रेन में देखते होंगे। किन्नर महिला और पुरुष की ही भांति एक अलग जेंडर माना जाता हैं। दोस्तों, किन्नर का वर्णन महाभारत में भी मिलता हैं। शिखंडी किन्नर के रूप में ही जन्में थे। वही अर्जुन को भी किन्नर बनने का श्राप मिला था। इनमें बच्चे पैदा करने की क्षमता नहीं होती है।

शादी-विवाह या किसी भी शुभ अवसर पर किन्नर से आशीर्वाद लेना अत्यंत शुभ माना जाता हैं। ट्रेन में किसी शुभ अवसर पर किन्नर पैसे मांगने जरुर आते हैं। ऐसे में लोग यह पूछते हैं की किन्नर को पैसे देने से क्या होता है और किन्नर की पहचान कैसे की जा सकती हैं

किन्नर की पहचान क्या हैं
किन्नर की पहचान क्या हैं

दोस्तों किन्नर समाज में एक लीडर होता हैं। सभी किन्नर उन्हीं के अंडर में काम करते हैं। उस लीडर की आज्ञा का पालन करना सबके लिए अनिवार्य होता हैं। किन्नर की शादी का विषय भी अक्सर चर्चा में रहती हैं। किन्नर सिर्फ एक दिन के लिए विवाह करते हैं। किन्नर दो तरह के होते हैं एक पुरुष और दूसरी महिला। ऐसे में यह सवाल आता हैं की किन्नर की पहचान क्या हैं। नीचे विस्तार से आपके सभी सवालों के जवाब दिए गए हैं।

किन्नर की पहचान क्या हैं – किन्नर कैसे पहचाने जाते हैं

किन्नर की पहचान उसके वेशभूषा से की जाती हैं। लेकिन सवाल यह आता हैं की किन्नर जैसी वेशभूषा तो कोई भी धारण कर सकता हैं। अत: चलिए जानते हैं की किन्नर की पहचान का सबसे बेस्ट तरीका क्या हैं। किन्नर वास्तव में पुरुष और स्त्री जैसे दिखाई देते हैं। किन्नरों के गुप्त अंग पूर्ण रूप से विकसित नहीं होते हैं। दरसल किन्नर बच्चे की पहचान मां के गर्भ से ही की जा सकती हैं। जब किसी बच्चे के जननांग गर्भ में किसी कारण वश अविकसित रह जाती हैं तो ऐसी स्थिति में होने वाले बच्चे की पहचान किन्नर के रूप में की जाती हैं। पुरुष जैसे दिखने वाले किन्नर में स्त्री जैसे गुण हो सकते हैं वही स्त्री किन्नर में पुरुष जैसे गुण। सीधे शब्दों में कहे तो किन्नर की पहचान सिर्फ और सिर्फ अविकसित जननांगों को देखकर ही किया जाना संभव हैं।

Also, Read कलयुग में जीवन जीने का तरीका – जीवन जीने के लिए करें ये काम

किन्नर की शादी कैसे होती हैं?

किन्नर की शादी अरावन नाम के देवता से होती हैं। सुनकर चौक गए न, जी हाँ यह सच हैं। दरसल अरावन जिन्हें इरावन के नाम से भी जाना जाता हैं किन्नर समाज उनकी पूजा करते हैं। इरावन अर्जुन की सन्तान हैं। किन्नरों में अपने देवता इरावन से विवाह करने की प्रथा लम्बे समय से चली आ रही हैं।

किन्नर का आशीर्वाद किस दिन लेना चाहिए

किन्नर का आशीर्वाद किस दिन लेना चाहिए
किन्नर का आशीर्वाद किस दिन लेना चाहिए

कहते हैं की जो लोग किन्नरों का आशीर्वाद लेते हैं उनके जीवन में कभी भी दुःख नहीं आता हैं। जीवन की परेशानियाँ किसी पत्ते की भांति उड़ जाते हैं। किन्नर का आशीर्वाद बुधवार के दिन लेना बेहद शुभ माना जाता हैं। इस दिन किन्नरों से आशीर्वाद लेने से कुंडली में बुध की स्थिति में सुधार होता हैं। जीवन खुशियों से भर जाता हैं और आर्थिक समस्या का निवारण होता हैं।

किन्नर को पैसे देने से क्या होता है

किन्नर को पैसे देने से किन्नर का आशीर्वाद मिलता हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, किन्नर से आशीर्वाद लेना सुख समृद्धि का प्रतिक हैं। पैसे देने से व्यक्ति के जीवन में धन से जुडी समस्या का अंत होता हैं। इसके अलावे ग्रहों की दशा ठीक होती हैं जिससे जीवन सुखमय बना रहता हैं।

किन्नर को क्या नहीं देना चाहिए

किन्नर को कुछ चीजें कभी नहीं देनी चाहिए। शास्त्रों के अनुसार, जो व्यक्ति किन्नर को दान में झाड़ू, प्लास्टिक या सीसे से बनी चीजे देते हैं उनके जीवन में कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होती हैं। माना जाता हैं की किन्नर को इस तरह की चीजें दान स्वरुप देना आर्थिक संकट को आमन्त्रण देने के समान हैं। किन्नर को दान में कपड़े, पैसे आदि देना शुभ हैं। यह तरक्की और व्यापार में वृद्धि के लिए अच्छा माना जाता हैं।

Also, Read शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए / सम्पूर्ण जानकारी हैरत में डाल देगा

निष्कर्ष

किन्नर की पहचान क्या हैं / किन्नर को पैसे देने से क्या होता है इसकी सम्पूर्ण जानकरी इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको प्रोवाइड की हैं। अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरुर करें। किन्नर समाज के साथ प्रेम से रहने और उनकी सहायता करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। किन्नरों के देवी को बुहचरा के नाम से जाना जाता हैं। किन्नर समाज रोज इनकी पूजा करते हैं।

मुझे आशा हैं की इस खास पोस्ट किन्नर की पहचान क्या हैं और किन्नर को पैसे देने से क्या होता है की जानकारी आपको पसंद आयी होगी। इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें।

Also, Read ऊटी में घूमने के स्थल – ऊटी में यहाँ नहीं गए तो ऊटी जाना हैं बेकार

1 thought on “किन्नर की पहचान क्या हैं / किन्नर को पैसे देने से क्या होता है”

Leave a Comment