शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए / सम्पूर्ण जानकारी हैरत में डाल देगा

Spread the love

शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए / सम्पूर्ण जानकारी हैरत में डाल देगा – दोस्तों भारत देश में शराब पीने वालों की संख्या बेहद ज्यादा हैं। हाल ही में मिली जानकारी के अनुसार लगभग 16 करोड़ लोग शराब पीते हैं। शोध से मिली जानकारी में पीता गया हैं की एक व्यक्ति 1 साल में लगभग साढ़े 5 लिटर शराब पीते हैं। जहरीले शराब के सेवन से मरने वालों की संख्या भी बहुत ज्यादा हैं। जी हाँ सरकारी आकड़ों के मुताबिक 2।6 लाख लोगों की जान शराब की वजह से हर वर्ष जाती हैं। यह आकड़ा एक्सीडेंट, लीवर कैंसर, जहरीले शराब और शराब से उत्पन्न होने वाली अन्य बीमारियों के हैं।

शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए
शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए

शराब का सेवन सेहत और आपके परिवार दोनों के लिए बेहद हानिकारक हैं। परन्तु कुछ लोगों को शराब की ऐसी लत होती हैं की वे इसे छोड़ नहीं पाते हैं। आज की यह पोस्ट उनके लिए जो शराब का सेवन करते हैं। शराब का सेवन करने वाले अक्सर यह सवाल करते हैं की शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए ?

दोस्तों आपके प्रश्न शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए इसका जवाब शास्त्रों के अनुसार देने जा रही हूँ। अत: इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़ें। शराब से जुडी कई अन्य जानकारियां जैसे शराब पीने के बाद दूध पीना चाहिए कि नहीं और तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय क्या हैं इसके बारें में भी मैं आपको विस्तार से बताउंगी।

Also, Read कौन सी जड़ी-बूटी किस काम आती है – 22 जड़ी-बूटी इसके काम जान हैरान हो जाएंगे

शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए

अत्याधिक शराब का सेवन आपके स्वास्थ्य को बेहद नुकसान पहुंचाता हैं। अत: इसका सेवन किसी भी दिन नहीं करना चाहिए। कुछ लोग धार्मिक कार्यों जैसे पूजा पाठ या किसी विशेष दिन शराब नहीं पीते हैं। सावन के महीने में शराब का सेवन वर्जित माना गया हैं। हिन्दू त्योहारों और पूजा अनुष्ठान के समय शराब का सेवन पूर्णत: वर्जित हैं। इसके अलावे मंडे और ट्यूसडे को भी शराब बीना अशुभ माना जाता हैं। शराब, मांस आदि तामसिक भोजन की श्रेणी में आते हैं। शास्त्रों में वर्णन हैं तामसिक भोजन मन को भटकाता हैं। ऐसे भोजन का सेवन कर ईश्वर को प्रसन्न नहीं किया जा सकता हैं। तामसिक भोजन में प्याज लहसुन, शराब, मांस आदि आते हैं।

शास्त्रों के अनुसार, शराब का सेवन किसी भी दिन नहीं करना चाहिए। दरसल सप्ताह के सातों दिन अलग-अलग भगवान की पूजा की जाती हैं। शास्त्रों में कहा गया हैं की जो लोग शनिवार के दिन शराब पीते हैं शनि की बुरी द्रष्टि उन पर पड़ती हैं जिससे उन्हें आर्थिक हानि झेलना पड़ता हैं। महाभारत काव्य के रचयिता वेदव्यास जी ने स्वयं कहा हैं की परोपकाराय पुण्याय पापाय परपीडनम्। इसका मतलब साफ़ हैं की पीड़ा देना पाप हैं और परोपकार करना पुण्य की श्रेणी में आता हैं।

शराब पीने के पश्चात व्यक्ति अपने मष्तिष्क पर अपना संतुलन खो देता हैं। उसे पता भी नहीं होता हैं की वह क्या कर रहा हैं। शराबी अक्सर खुद को और अपने परिवार को संकट में डाल देते हैं। घरेलू हिंसा का सबसे बड़ा कारण शराब पीना ही हैं। शराब पीकर गाड़ी चलाना दूसरों को संकट में डालने के समान ही हैं। शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए इस सवाल का सीधा और सही उत्तर हैं शराब को किसी भी दिन हाथ नहीं लगाना चाहिए।

Also, Read नारियल किस दिन तोड़ना चाहिए / कलश स्थापना में नारियल कैसे रखें

शराब पीने के बाद दूध पीना चाहिए कि नहीं

शराब पीने के बाद दूध पीना चाहिए कि नहीं
शराब पीने के बाद दूध पीना चाहिए कि नहीं

शराब के साथ दूध पीना स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद खराब माना जाता हैं। जो लोग शराब के साथ या शराब पीने के तुरंत बाद दूध पीते हैं उन्हें हृदय संबंधी समस्यायों का सामना करना पड़ता हैं। एक्सपर्ट्स के अनुसार, शराब के साथ दूध पीना हार्ट अटैक का कारण बन सकता हैं। शराब के साथ दूध का सेवन आँतों को नुकसान पहुंचाता हैं।

तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय

तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय
तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय

शराब वास्तव में एक बेहद बुरी लत हैं जो व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोर कर देता हैं। इसके सेवन से लीवर धीरे-धीरे कमजोर हो जाता हैं। लगातार इसके सेवन से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी हो सकती हैं। इसके अलावे यह आपके मष्तिष्क को भी बुरी तरह प्रभावित करती हैं। यह आपकी यादाश्त को कमजोर तो करता ही हैं साथ ही सोचने और समझने की क्षमता को धीरे-धीरे क्षीण कर देता हैं। तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय बेहद आसान हैं। दरसल रोज तुलसी का सेवन शराब स्वाद को खराब कर इसके लत से छुटकारा पाने में मदद करता हैं। इसके सेवन से शराब पीने की इच्छा में कमी देखि जाती हैं। जब भी आपको शराब पीने की इच्छा हो तुलसी की कुछ पत्तियां तोडकर मुंह में रख लें।

Also, Read पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए / स्त्रियों के किस अंग को छूना शुभ माना जाता है

अचानक शराब छोड़ने के नुकसान

अचानक शराब छोड़ने पर आपके शरीर में कुछ समस्याएं देखने को मिलती हैं। एक्सपर्ट्स कहते हैं की शराब को धीरे-धीरे छोड़ना ही बेहतर हैं। अचानक शराब की लत को छोड़ने से आपको नींद में समस्या, घबराहट, ह्रदय का तेजी धड़कना, काम में मन लगना जैसी अनेकों समस्या ओ सकती हैं।

निष्कर्ष

मुझे आशा हैं की आपको शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए / सम्पूर्ण जानकारी हैरत में डाल देगा की यह पोस्ट बेहद पसंद आई होगी। इस जानकारी को शेयर जरुर करें। शराब का सेवन घरेलू झगड़ों का मुख्य कारण हैं। इसके सेवन से हर रोज सैकड़ों लोगों की जाने जाती हैं। शास्त्रों में भी शराब का सेवन निषेध माना गया हैं।

मुझे आशा हैं की आपको शराब किस दिन नहीं पीना चाहिए की यह जानकारी अच्छी लगी होगी। सुंदरता ब्लॉग पर आपको इस तरह की अनेकों महत्वपूर्ण जानकारियां मिलेंगी। अत: इस ब्लॉग को फॉलो जरुर करें।

Also, Read सात घोड़े की तस्वीर किस दिन लगाना चाहिए – सात घोड़े का वॉलपेपर

Leave a Comment