Anorexia Nervosa in Hindi and its Symptoms

Spread the love

Anorexia Nervosa in Hindi: नमस्कार दोस्तों हम आपका स्वागत करते है अपने नए ब्लॉग पोस्ट में और आज हम बात करेंगे एनोरेक्सिया नर्वोसा (anorexia nervosa) के बारे में। एनोरेक्सिया नर्वोसा दिमाग की एक ऐसी बीमारी है जो अगर किसी इंसान को हो तो वह इंसान अपने वजन को लेकर बहुत चिंतित रहता है। अगर कोई व्यक्ति एनोरेक्सिया नर्वोसा की बीमारी से जूझ रहा है तो वो अपने खानपान में नियंत्रण पाने की कोशिश करता है जिससे उसका वजन बढ़ ना जाए। इसके लिए वो व्यक्ति अत्यधिक व्यायाम, एक्सरसाइज, डाइटिंग, और कई सारे उपायों का इस्तेमाल करता है।

Anorexia Nervosa in Hindi and its Symptoms
Anorexia Nervosa in Hindi and its Symptoms

एनोरेक्सिया नर्वोसा के कारण एक व्यक्ति की जान भी जा सकती है क्योंकि इस बीमारी से पीड़ित इंसान हर समय अपने वजन के बढ़ने की वजह से चिंतित रहता है जिसकी वजह से अपना खानपान या तो कम कर देता है या बिलकुल छोड़ देता है। अगर वह व्यक्ति खाना खा ले तो जान पूछ कर खाए हुए खाने को या तो उल्टी करके बाहर निकालता है या अधिक मात्रा में एक्सरसाइज का सहारा लेता है। यह एक ऐसी बीमारी है जिसके चलते इंसान की शरीर की हड्डियों दिखने लग जाती है लेकिन उसके बावजूद भी वह अपने वजन को कम करने की कोशिश करता है। आज के इस लेख में हम जानेंगे एनोरेक्सिया नर्वोसा से जुड़े उसके कारण,प्रकार, और इलाज के बारे में।

चलिए सबसे पहले जानते हैं एनोरेक्सिया नर्वोसा (anorexia nervosa) कितने प्रकार के होते हैं? नीचे दिए गए

जाने एनोरेक्सिया नर्वोसा (Anorexia Nervosa) के प्रकार

एनोरेक्सिया नर्वोसा का सबसे पहला प्रकार है restrictive, जिसमें इंसान अपने खानपान को लेकर रिस्ट्रिक्शन लगा देता है यानी कि रोक लगा देता है। वह इंसान हमेशा यह सोचता रहता है की उसे कितनी कैलरी खानी चाहिए या फिर खाद्य पदार्थों में से fat का सेवन कितना करना चाहिए। कैलोरीज या फिर फैट बढ़ जाने की डर की वजह से एनोरेक्सिया से पीड़ित व्यक्ति या तो अपने खाने में सिर्फ एक बाइट लेता है या खुद को भूखा रखा है। इसी डर की वजह से वह व्यक्ति खुद पर काफी रिस्ट्रिक्शन या सख्ती बरसता है।

एनोरेक्सिया नर्वोसा का दूसरा प्रकार है binge/purge, इसमें इंसान खाने को अत्यधिक मात्रा में खाकर अपने पेट को भर तो लेता है लेकिन बाद में वह इंसान उल्टी कर कर उस खाने को बाहर निकालता है और एनीमिया का भी दुरुपयोग करने की कोशिश करता है। लेकिन वजन बढ़ने के डर से यह व्यक्ति अत्यधिक मात्रा में व्यायाम या फिर एक्सरसाइज करता है।

चलिए अब जानते हैं एनोरेक्सिया नर्वोसा के कौन कौन से कारण हो सकते हैं? वैसे तो अभी तक एनोरेक्सिया नर्वोसा का कोई भी ठीक ठीक कारण पता नहीं लग पाया है। लेकिन वैज्ञानिकों की मानी जाए तो एनोरेक्सिया नर्वोसा के निम्न कारण हो सकते हैं।

Causes of Anorexia Nervosa

एनोरेक्सिया नर्वोसा (anorexia nervosa) का सबसे पहला कारण साइकोलॉजिकल फैक्टर्स यानी कि मनोवैज्ञानिक हो सकता है। कई लोगों को ऐसा लगता है कि वह जैसे दिखते हैं और उनका जो शरीर है उनमें बहुत ही खामियां है और वह दुबले पतले या फिर परिपूर्ण नहीं दिखते। ऐसे में इन लोगों के दिमाग में सिर्फ यही चलता रहता है कि ज्यादा से ज्यादा पतले या फिर निर्दोष कैसे दिखें जिसके लिए वह खाना बंद करने को भी तैयार है और खाने के बाद उल्टी करने को भी तैयार है। एनोरेक्सिया नर्वोसा का दूसरा कारण genes में बदलाव यानी कि जैविक बदलाव भी हो सकता है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी स्पष्ट नहीं किया गया है कि यह कारण एनोरेक्सिया नर्वोसा है या फिर केवल कुपोषण ही है। जींस में हुए बदलाव के कारण दिमाग में भूख को नियंत्रण करने वाले हिस्से पर प्रभाव पड़ता है।

एनोरेक्सिया नर्वोसा (Anorexia Nervosa) का तीसरा कारण सामाजिक कारण भी हो सकता है। कई लोग बाहरी प्रभाव में आकर अपने शरीर की तुलना बाकी लोगों के साथ करते हैं जिसकी वजह से उनके दिमाग में हमेशा अपने शरीर को लेकर तनाव बना रहता है। ऐसी धारणा की वजह से लोग अपने शरीर को मेंटेन करने के लिए या तो कम खाना खाते हैं या फिर अधिक मात्रा में एक्सरसाइज करते हैं ताकि उनको ऐसा एहसास हो कि वह लोग सामाजिक सुंदरता के मानकों में आते हो।

चलिए अब जानते हैं एनोरेक्सिया नर्वोसा (anorexia nervosa) के इलाज के बारे में। एनोरेक्सिया नर्वोसा से पीड़ित

इंसान जल्द से जल्द अपना इलाज करवाए ताकि इसकी वजह से होने वाली समस्याएं कम हो और उन्हें थोड़ी राहत मिल सके। वैसे तो एनोरेक्सिया नर्वोसा के इलाज में थैरेपिस्ट, पोषण विशेषज्ञ, फिजीशियन, और काउंसलर की सहायता से वजन बढ़ाने में या फिर इस बीमारी को ठीक करने में मदद मिलती है। यह सभी लोग एक साथ काम करके आपके लिए एक मुख्य रूप से डाइटिंग प्लान तैयार करते हैं जिससे आपका वजन जल्द से जल्द बढ़ सके। एनोरेक्सिया नर्वोसा से पीड़ित इंसान का ना केवल सिर्फ शरीर बल्कि उसका दिमाग, दोनों को हानि पहुंचती है। एक इंसान तब तक एनोरेक्सिया नर्वोसा से छुटकारा नहीं पा लेता जब तक वह अपने खानपान पर अधिकार प्राप्त नहीं कर लेता।

Also, Read सोते समय चक्कर आना गंभीर बीमारी के हैं लक्षण – सावधान

FAQ

एनोरेक्सिया नर्वोसा क्या है?

एनोरेक्सिया वो बीमारी है जिसके कारण इंसान को यह लगता है कि उसके शरीर का वजन बढ़ रहा है।

एनोरेक्सिया नर्वोसा के कौन-कौन से लक्षण होते हैं?

एनोरेक्सिया नर्वोसा में उल्टी आना, चक्कर आना, थकान होना, या फिर बालों का झड़ना यह लक्षण हो सकते हैं।

एनोरेक्सिया नर्वोसा से आपको क्या समझ में आता है?

एनोरेक्सिया वो बीमारी है जिसके कारण इंसान को यह डर बना रहता है कि कहीं शरीर का वजन ना बढ़ जाए। Also, Read नजर उतारने के प्राचीन उपाय – यह उपाय अचूक हैं जरुर पढ़ें.

Leave a Comment