अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde)

Spread the love

अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde): नमस्कार दोस्तों हम आपका स्वागत करते हैं अपने नए ब्लॉग पोस्ट में और आज हम बात करेंगे, अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) के बारे में। हृदय से जुड़ी समस्याओं की वजह से इंसान को कई सारी तकलीफों का सामना करना पड़ता है। आयुर्वेद में कई सारे ऐसे उपाय हैं जो हृदय को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए बताए गए हैं। उनमें से एक उपाय है अर्जुनारिष्ट का सेवन करना। अगर आपको भी दिल से जुड़ी समस्याएं हैं तो अर्जुनारिष्ट आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। अर्जुनारिष्ट में पाए जाने वाले कई सारे  औषधीय और आयुर्वेदिक तत्व मौजूद होते हैं जैसे कि अर्जुन की छाल, गुड, मुनक्का और इत्यादि जिससे हमें परेशानियों से राहत मिलती है। तो आज के इस लेख में हम बात करेंगे अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde), नुकसान, इसमें मिलने वाले पोषक तत्व, और इसके इस्तेमाल के बारे में।

अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde)
अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde)

अर्जुनारिष्ट में पोषक तत्व (Arjunarishta me kya kya hota hai)

चलिए सबसे पहले जानते हैं अर्जुनारिष्ट में मिलने वाले पोषक तत्व के बारे में:

अर्जुनारिष्ट में  मुख्य तौर पर अर्जुन की छाल  पाई जाती है। अर्जुन की छाल में अनेक औषधीय गुण होते हैं और यही गुण आपके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। ना केवल अर्जुन की छाल बल्कि इसमें गुड, मुनक्का इत्यादि भी पाए जाते हैं। अर्जुनारिष्ट आपके शरीर की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है लेकिन इसका ज्यादातर इस्तेमाल हृदय से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है। अर्जुनारिष्ट में मिलने वाले पोषक तत्व जैसे सोडियम, पोटैशियम, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, कैलोरी, प्रोटीन, विटामिन, फास्फोरस, मैग्नीशियम,fat, इत्यादि हमारे शरीर के लिए लाभदायक होते हैं।

अर्जुनारिष्ट लेने का तरीका

अब जानेंगे अर्जुनारिष्ट के इस्तेमाल के बारे में:

  • अर्जुनारिष्ट एक टॉनिक है जो हृदय से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के लिए ली जाती है।
  • अर्जुनारिष्ट लेने से आपका मोटापा भी कम होगा।
  • यह आपके कोलेस्ट्रॉल को कम करने में  और उस पर नियंत्रण  रखने में मदद करता है।
  • आप अर्जुनारिष्ट  और पानी को 10 से 20 मिलीलीटर सामान्य मात्रा पर मिलाकर पी सकते हैं।
  • खाना खाने के  50 मिनट बाद आप इसका सेवन कर सकते हैं।

Alos, Read सालम पंजा के फायदे(Salam Panja ke Fayde)

फायदे (Arjunarishta ke fayde)

चलिए अब जानते हैं अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) के बारे में:

मोटापे को कम करने के लिए

अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) में सबसे पहला फायदा है, मोटापे को कम करने के लिए मददगार। अगर आपके शरीर में अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रॉल बढ़ गया है  या चर्बी अधिक हो गई है तो आपको अर्जुनारिष्ट काफी फायदा दे सकता है। अर्जुनारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। यही कारण है कि यह आपके वजन को नियंत्रण में रखने में मदद करता है।

Alos, Read अर्जुन छाल के फायदे (Arjun Chhal ke Fayde)

हृदय से जुड़ी समस्याओं में अर्जुनारिष्ट के फायदे

अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) में दूसरा फायदा है, हृदय से जुड़ी समस्याओं को ठीक करना। दुनिया भर में सबसे ज्यादा मौतें हृदय की समस्याओं की वजह से होती है। अगर आप भी हृदय से जुड़ी समस्याओं से परेशान है तो अर्जुनारिष्ट का इस्तेमाल आपके लिए काफी फायदेमंद होगा। आप हर रोज 5 से 6 सप्ताह तक इसका इस्तेमाल खाना खाने के बाद करें। यह आपके हृदय की नसों को आराम पहुंचाएगा और खून के प्रवाह को संतुलन में रखेगा।

पेट से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने में

अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) में तीसरा फायदा है, पेट से जुड़ी समस्याओं को ठीक करना। अगर आपको पेट से जुड़ी समस्या है तो अर्जुनारिष्ट का इस्तेमाल आपके लिए काफी फायदेमंद होगा। अर्जुनारिष्ट में पाया जाने वाला फाइबर आपकी पाचन क्रिया को बढ़ाएगा और पेट से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने में मदद करेगा। अर्जुनारिष्ट का इस्तेमाल खाना खाने  के 50 मिनट  बाद कर सकते हैं।

Alos, Read अर्जुन छाल के फायदे (Arjun Chhal ke Fayde)

छाती के दर्द से राहत

अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) में चौथा फायदा है, छाती के दर्द से राहत दिलाना। अगर आपको छाती में अधिक दर्द होने की वजह से समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, तो आपके लिए अर्जुनारिष्ट काफी फायदेमंद होगा। अर्जुनारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व आपकी छाती की जलन को ठीक करेंगे और दर्द से आराम दिलाने में मदद करेंगे। अर्जुनारिष्ट आपकी छाती की मांसपेशियों को खोलने में मदद करेगा जिससे सांस का प्रवाह  आसानी से हो पाएगा।

अस्थमा से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा

अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) में पांचवा फायदा है, अस्थमा से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा दिलाना। अगर आपको सांस लेने तकलीफ होती है या फिर आप एक अस्थमा के पेशेंट हैं तो अर्जुनारिष्ट आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। अर्जुनारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व फेफड़ों को मजबूत करने में और फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं।

Alos, Read चिरायता के फायदे (Chirata ke Fayde)

अर्जुनारिष्ट के नुकसान (Arjunarishta Ke Nuksan)

अभी हमने जाना अर्जुनारिष्ट के फायदे(arjunarishta ke fayde) के बारे में, अब हम जानेंगे  अर्जुनारिष्ट के कुछ नुकसान के बारे में:

कहते हैं कि  अत्यधिक रूप में कोई भी वस्तु आपको नुकसान ही देगी, और जिसके फायदे होते हैं उसके कुछ नुकसान भी जरूर होते हैं। ठीक उसी प्रकार अर्जुनारिष्ट का अधिक इस्तेमाल करने की वजह से इसके कुछ नुकसान हो सकते हैं।

  • अर्जुनारिष्ट का इस्तेमाल बिना चिकित्सक और डॉक्टर की सलाह के ना करें।
  • अगर आप डायबिटीज के पेशेंट है तो आपको इसके इस्तेमाल से बचना होगा।
  • अगर आप प्रेग्नेंट है तो आपको इसका सेवन  बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।
  • 5 साल से कम उम्र के बच्चों को अर्जुनारिष्ट से दूर रखें।
  • अत्यधिक रूप में इस्तेमाल करने की वजह से शरीर पर बुरा प्रभाव हो सकता है।
  • Alos, Read तिल के तेल के फायदे (Til ke tel ke fayde)

FAQ:

अर्जुनारिष्ट कितने दिन पीना चाहिए?

आप हर रोज 3 हफ्तों तक अर्जुनारिष्ट का सेवन कर सकते हैं।

क्या अर्जुनारिष्ट कोलेस्ट्रॉल कम कर सकता है?

जी हां, अर्जुनारिष्ट में  पाए जाने वाले पोषक तत्व कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं।

अर्जुनारिष्ट की तासीर क्या है?

अर्जुनारिष्ट हमारे पेट को साफ करने में मदद करती है तो  इसकी तासीर भी ठंडी रहती है।

किसको अर्जुनारिष्ट नहीं लेना चाहिए?

अगर आपकी उम्र 5 साल से कम है तो आपको इस से दूर रहना चाहिए।

Alos, Read हरड़ के फायदे (Harad ke Fayde)

3 thoughts on “अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde)”

Leave a Comment