अश्वगंधारिष्ट के फायदे (Ashwagandharishta ke fayde)

Spread the love

अश्वगंधारिष्ट के फायदे (Ashwagandharishta ke fayde): नमस्कार दोस्तों हम आपका स्वागत करते हैं अपने नए ब्लॉग पोस्ट में और आज हम बात करेंगे,  अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde) के बारे में। भारत को जड़ी बूटियों का देश भी कहा जाता है और आयुर्वेद में अश्वगंधा जैसी आयुर्वेदिक औषधि हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती है। अश्वगंधारिष्ट को बनाने में कई सामग्रियों का इस्तेमाल होता है जैसे मंजिष्ठा, हल्दी, हरड़, और अश्वगंधा। अश्वगंधारिष्ट ज्यादातर पुरुषों के लिए सहायक है। अश्वगंधारिष्ट दिखने में लाल कलर का होता है। इस लेख में हम जानेंगे अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde), नुकसान, इस में पाए जाने वाले पोषक तत्व, और इस्तेमाल के तरीके के बारे में।

अश्वगंधारिष्ट के फायदे (Ashwagandharishta ke fayde)
अश्वगंधारिष्ट के फायदे (Ashwagandharishta ke fayde)

अश्वगंधारिष्ट में पायें जाने वाले पोषक तत्त्व

चलिए सबसे पहले जानते हैं अश्वगंधारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व के बारे में:

अश्वगंधारिष्ट के इस्तेमाल से हमें मानसिक बीमारियां और यौन से जुड़ी बीमारियां ठीक करने में मदद मिलती है। आयुर्वेदिक प्रक्रिया से बनाया गया अश्वगंधारिष्ट हल्दी, हरड़, मुलेठी, सफेद मूसली, और इत्यादि के इस्तेमाल के बाद अश्वगंधारिष्ट की प्राप्ति होती है। इसमें मिलने वाले पोषक तत्व जैसे कार्बोहाइड्रेट, कैलोरी, फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन सी, आयरन, और इत्यादि हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं।

अश्वगंधारिष्ट की सेवन विधि

अब जानेंगे इसके इस्तेमाल के बारे में:

  • अश्वगंधारिष्ट को आप हर रोज दो  से चार चम्मच पानी में मिलाकर ले सकते हैं।
  • खाना खाने के आधे घंटे बाद अश्वगंधारिष्ट की खुराक ले सकते हैं।
  • अश्वगंधारिष्ट का इस्तेमाल पुरुषों और महिलाओं में लाभदायक है। हालांकि बच्चे भी आयुर्वेदिक  टॉनिक का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • 15 से 20 मिलीलीटर अश्वगंधारिष्ट 15 मिलीलीटर पानी में मिलाकर सेवन करना लाभदायक है।
  • 6 साल से छोटे बच्चों को एक चम्मच अश्वगंधारिष्ट दिया जा सकता है और जो बच्चे 12 साल से ऊपर हैं उनको दो चम्मच दे सकते हैं।
  • 18 साल से ऊपर के व्यक्तियों को दिन में 5 चम्मच पानी में मिलाकर इसकी खुराक हर रोज लेनी चाहिए।

Also, Read अंगूर खाने के फायदे (Grapes Khane Ke Fayde)

फायदे (Ashwagandharishta ke fayde)

अब जानते हैं अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde)  के बारे में:

पाचन तंत्र को स्वस्थ रखना:

अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde)  में सबसे पहला फायदा है, पाचन तंत्र को स्वस्थ रखना। अगर आप पाचन से जुड़ी समस्याओं का सामना कर रहे हैं  तो अश्वगंधारिष्ट आपकी मदद कर सकता है। हर रोज अश्वगंधारिष्ट लेने से आप आप का पाचन तंत्र तो सुधरेगा ही साथ ही साथ पाचन तंत्र मजबूत भी होगा। आपको खाना पचाने में आसानी होगी और यह आपके शरीर को मजबूत भी रखेगा। इसमें पाया जाने वाला फाइबर हमारी पाचन क्रिया के लिए  और संपूर्ण पेट के लिए  लाभदायक होता है।

Also, Read गोखरू के फायदे (Gokhru ke Fayde)

डिप्रेशन में सहायक:

अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde)  में दूसरा फायदा है, डिप्रेशन से छुटकारा पाना। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी जिसमें तनाव और स्ट्रेस बना रहता है और हमारी खराब डाइट की वजह से हमारा शरीर स्वस्थ नहीं रह पाता। अगर आप अवसाद या डिप्रेशन के शिकार हैं तो अश्वगंधारिष्ट इसमें आपकी मदद कर सकता है। प्रतिदिन अश्वगंधारिष्ट की खुराक लेने से आप अवसाद को दूर कर सकते हैं। अश्वगंधारिष्ट में एंटीडिप्रेसेंट जैसे गुण पाए जाते हैं जिससे आपको चिंता से मुक्ति मिलती है।

स्वस्थ हृदय के लिए अश्वगंधारिष्ट के फायदे

अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde)  में तीसरा फायदा है, हृदय को स्वस्थ रखने  के लिए। दुनिया में ज्यादातर मौतें  हृदय से जुड़ी बीमारियों की वजह से होती है। एक स्वस्थ हृदय ही स्वस्थ शरीर की पहचान होता है। अगर आप भी हृदय से जुड़ी बीमारियों या समस्याओं से जूझ रहे हैं तो आपको अश्वगंधारिष्ट फायदा दे सकता है। अश्वगंधारिष्ट आपके शरीर को ऊर्जा देगा और थकान को दूर करेगा जिससे आप काफी  एनर्जेटिक महसूस करेंगे।

Also, Read कीवी खाने के फायदे(Kiwi Khane Ke Fayde)

याददाश्त को सुधारने के लिए:

अश्वगंधारिष्ट के फायदे(ashwagandharishta ke fayde)  में चौथा फायदा है, याददाश्त को सुधारने में लाभदायक। अगर आपको भूलने की बीमारी है या फिर आप कई सारी चीजें भूल जाते हैं तो आपको अश्वगंधारिष्ट काफी  लाभ दे सकता है। बढ़ती उम्र के चलते भूलने की बीमारी होना आम बात है। यदि अगर आप भी इस से परेशान हैं तो आप अश्वगंधारिष्ट की खुराक प्रतिदिन लें जो आपकी याददाश्त को सुधारने में और उस को स्वस्थ रखने में मदद करेगा।

सेहत को बनाए रखने में अश्वगंधारिष्ट के फायदे

अश्वगंधारिष्ट के फायदे (ashwagandharishta ke fayde) में पांचवा फायदा है, हमारे शरीर के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए। यदि अगर आपका समय अधिक काम करने में निकलता है या फिर आप थकावट  भरी जिंदगी जी रहे हैं तो अश्वगंधारिष्ट आपको आराम दे सकता है। अश्वगंधारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व हमारे शरीर  के संपूर्ण स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए लाभदायक है। अश्वगंधारिष्ट का सेवन प्रतिदिन करने से आपकी सेहत में सुधार देखने को मिल सकता है।

Also, Read छुहारा खाने के फायदे(Chhuhara Khane ke Fayde)

अश्वगंधारिष्ट के नुकसान (Ashwagandharishta Ke Nuksan)

चलिए जानते हैं अश्वगंधारिष्ट के नुकसान के बारे में:

वैसे तो अश्वगंधारिष्ट का इस्तेमाल करने से लाभ ही मिलता है लेकिन अधिक मात्रा में इसका इस्तेमाल करेंगे तो इसके कुछ नुकसान भी है।

  • 1 दिन में 2 से अधिक बार सेवन करने से अश्वगंधारिष्ट आप को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं और स्तनपान कराती हैं तो आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अश्वगंधारिष्ट को छोटे बच्चों से  दूर रखें।
  • अगर अश्वगंधारिष्ट लेने के बाद आपको कोई  समस्या देखने को मिलती है तो इस की खुराक लेना बंद कर दें।

Also, Read मुलेठी के फायदे (Mulethi Ke Fayde)

FAQ:

अश्वगंधारिष्ट कब तक लेना चाहिए?

डॉक्टर द्वारा बताए गए समय तक ही इसका सेवन करें।

क्या अश्वगंधारिष्ट रोज ले सकते हैं?

जी हां, आप अश्वगंधारिष्ट रोज ले सकते हैं।

अश्वगंधारिष्ट किसे नहीं लेना चाहिए?

अगर आप प्रेग्नेंट हैं और स्तनपान कराती हैं तो आपको अश्वगंधारिष्ट नहीं  लेना चाहिए।

अश्वगंधारिष्ट लेने का सबसे सही समय कौन सा है?

अगर आप सुबह के समय इसका सेवन करते हैं तो  यह ज्यादा लाभदायक होता है।

Also, Read जीरा खाने के फायदे(Jeera Khane ke Fayde)