जीभ के पीछे दाने होने के कारण और इलाज

Spread the love

जीभ के पीछे दाने– जीभ शरीर का एक सबसे अहम अंग है जो खाना चबाने, स्वाद बताने और बोलने के लिए काम में आती हैं। कई लोगो को जीभ के पीछे दाने की प्रोब्लम होती है। जिसके कारण उन्हें खाना खाते वक्त दर्द होता है। इस पोस्ट पर हम जीभ के पीछे दानों के बारे में आपको पुरी जानकारी देंगे। इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

जीभ के पीछे दाने होने के कारण और इलाज
जीभ के पीछे दाने होने के कारण और इलाज

जानें की जीभ के पीछे दाने क्यों होते हैं?

जीभ के पीछे दाने होने के बहुत सारे कारण हो सकते है। जैसे चोट लगना, संक्रमण, रक्त वाहिकाओं का कमजोर होना आदी कई कारण होते है जीभ के पीछे दाने होने।

जब जीभ के पीछे दाने होते है तो ये छोटे छोटे गोल आकार के दिखते है। ये दाने दिखने में केसे होंगे यह हर इंसान की शारीरिक बनावट पर निर्भर करता है। ]

Also, Read स्क्रब करने के तरीके (Scrub Karne ka Tarika)

दानों के लक्षण और कारण

अब जानते है  की जीभ के पीछे दाने के लक्षण कैसे होते है?

1. चोट लगने के कारण

जीभ पर दाने किसी चोट के कारण भी हो सकते है। जैसे खाना खाते वक्त जीभ पर कट लगना या कुछ ऐसा खा लेना लेना जिस से जीभ पर जलन होने लगे तो और जीभ पर दाने निकल आए।

2. संक्रमण होने पर

जीभ के पीछे  दाने किसी संक्रमण के कारण भी हो सकते है। आपकी जीभ पर यह संक्रमण किसी कवक, बैक्टीरिया या फंगल इन्फेक्शन के कारण हो सकते है। ऐसे में जब जीभ पर दाने होते है तो उनमें जलन, खुजली और दर्द का एहसास होता है और जीभ का रंग लाल होने लगता है।

Also, Read सुबह उठने का मन नहीं करता है क्या करें?

3. रक्तवाहिकाओं में कमजोरी

जीभ में मौजूद रक्तवाहिकाएं बहुत नाजुक और बारीक होती है। ऐसे में जब ये रक्त वाहिकाएं किसी कारण से कमज़ोर हो जाती है या जीभ पर किसी तरह की चोट लग जाती हैं तो जीभ के पीछे दाने निकल आते है।

4. बीमारियाँ होना

जीभ के पीछे दाने होने का कारण कई बार कोई बीमारी भी हो सकती है जैसे छाले, मुंह का कैंसर आदी।

5. खाना

आपका आहार सबसे पहले जीभ के संपर्क में आता है। इसीलिए कुछ भी उल्टा सीधा खाना जीभ पर एलर्जी और दाने होने का कारण बन सकता है।

6. अन्य कारण

साइनस, इन्फेक्शन और आंत में संक्रमण होने के कारण भी जीभ पर दाने निकल आते है।

7. विटामिन बी 12 की कमी

विटामिन बी 12 की कमी से जीभ पर अल्सर की प्रोब्लम का सामन करना पड़ सकता है जिसके कारण आपको जीभ के पीछे दाने हो सकते है और जीभ लाल पड़ सकती है।

जीभ के पीछे दाने का ईलाज

दोस्तों जीभ के पीछे जो दाने निकल आते है उनका ईलाज इनके होने के कारण पर भी निर्भर करता है। अगर आपको जीभ पर दाने किसी चोट के कारण हुऐ है तो थोड़ा इंतजार करे यह खुद ही ठिक हो जायेंगे। और अगर आपको दाने किसी इन्फेक्शन के कारण हुऐ है तो डॉक्टर से सलाह लें। उनकी दी हुई एंटीबायोटिक दवाइयों को ले। दोस्तो डॉक्टर की सलाह इसलिए जरुरी होती है की सही वक्त पर सही इलाज मिल सके।

Also, Read सबसे ज्यादा कैल्शियम किस चीज में पाया जाता है

जीभ के पीछे दाने से बचाव कैसे करें

अगर ज्यादा लापरवाही की जाए तो संक्रमण कम होने के बजाय और ज्यादा बढ़ सकता है।

  • अपने दांत साफ करने के बाद आपको जीभ को भी साफ़ करना चाहिए।
  • तंबाकू और गुटके से दुर रहें।
  • ज्यादा मसालेदार खाना ना खाएं।
  • हरि सब्जियों को आहार में शामिल करे।
  • एहलकोल से दुर रहें और सिगरेट न पीए।
  • रोज भरपुर पानी पीए।
  • पुरे दिनभर आप बहुत कुछ खाते रहते है इसलिए मुंह की सफाई का ध्यान रखे।
  • रोज सुबह शाम गुनगुने पानी से मुंह की सफाई करे।
  • अपने स्ट्रेस लेवल को कम रखे क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य और जीभ को प्रभावित कर सकता है। इसके लिए आप योग और प्राणायाम का सहारा ले सकते है।
  • ऑयल पुलिंग रोज़ करे जिससे आपके मुंह में मौजूद बेक्ट्रिया मर जाए।

Also, Read टखने का दर्द (Takhne Ka Dard)

दोस्तो जीभ पर दाने निकलना किसी गंभीर समस्या का संकेत भी हो सकता है। ऐसे में उसे हल्के में ना ले यदि शुरुआती लक्षण है तो तीन दिन इंतजार कर के घरेलू उपाय अपना कर देख सकते है। लेकिन यह दाने अगर किसी गंभीर समस्या का संकेत है तो डॉक्टर से सलाह लेकर सही वक्त पर दवाई ज़रूर ले। अन्यथा आगे जाकर यह जीभ में घाव होने का कारण भी बन सकते है। इसके चलते आप ठीक से कुछ भी नहीं खा पाएंगे और न कुछ पी पाएंगे।

दोस्तों अभी आपने जाना जीभ के पीछे दाने क्यों होते है और उनसे जुड़े कुछ उपाय। हम यह आशा करते है की आपकों यह जानकारी पसंद आई होगी। इस ब्लॉग पर आने के लिए आपका धन्यवाद।

Also, Read पीठ के बीच हिस्से में दर्द से बचाव और उपाय

FAQ

Q. जीभ पर होने वाले छोटे छोटे दाने को क्या कहते है?

Ans: जीगोग्राफिक टंग।

Q. जीभ पर दाने किस विटामिन की कमी से हो सकते है?

Ans: विटामिन बी 12

Q. अगर जीभ पर लाल दाने नज़र आए तो उसका क्या मतलब होता है?

Ans: स्ट्रोबेरी वाला जीभ जीवाणु संक्रमण हो सकता है।

Also, Read Sukhi Khansi ka Gharelu Upay (सूखी खांसी के घरेलू उपाय)

3 thoughts on “जीभ के पीछे दाने होने के कारण और इलाज”

Leave a Comment