झूठे प्यार को कैसे पहचाने – 5 आसान तरीके अभी आजमायें

Spread the love

झूठे प्यार को कैसे पहचाने यह थोड़ा मुश्किल सवाल लगता हैं लेकिन झूठे प्यार की पहचान करना बहुत आसान हैं। दोस्तों प्यार कभी-न कभी अपनी जिंदगी में हर किसी को होता ही हैं। समय रहते झूठे प्यार का पता करना बेहद जरुरी हैं ताकि एक ऐसे लाइफ पार्टनर का को चुना जा सके जो ताउम्र साथ निभाएं। अक्सर प्यार में पड़े लड़के लड़कियां अपने पार्टनर के बारे में जानना चाहते हैं की कही उनका पार्टनर या लवर उन्हें धोखा तो नहीं दे रहे हैं। कई लोग ऊपर से तो नरम दिल और काफी केयर करने वाले दीखते हैं लेकिन यह सब सिर्फ दिखावा भी हो सकता हैं तो आइयें जानते हैं की झूठे प्यार को कैसे पहचाने जिससे भविष्य में ब्रेकअप का दर्द का दर्द न झेलना पड़ें।

झूठे प्यार को कैसे पहचाने - 5 आसान तरीके अभी आजमायें
झूठे प्यार को कैसे पहचाने – 5 आसान तरीके अभी आजमायें

प्यार क्या हैं?

प्यार एक ऐसी अनुभति हैं जो व्यक्ति को एक पवित्र बंधन से जोड़ता हैं। यह आत्मा का आत्मा से मिलन हैं। प्यार एक एहसास हैं, समर्पण हैं। जब किसी को किसी से प्यार होता हैं तो अपने प्यार के लिए किसी भी हद से गुजर जाता हैं। प्यार में न जाती होती हैं न ही धर्म और न ही कोई शर्त। प्यार में पड़े इन्सान को धन दौलत और किस भी भौतिक सुख का ज्ञान नहीं रहता हैं। कहते हैं न की प्यार करने वाले सात समुन्द्र पार भी जा सकते हैं।

पढ़ें प्यार की सच्ची कहानी

हाल में आपने भारत के रहने वाले सचिन और पाकिस्तान के रहने वाली सीमा हैदर के बारें में जरुर सुना होगा। सीमा अपने बच्चो के साथ पाकिस्तान से अपने प्यार के लिए भारत आ गयी। प्यार में कितनी शक्ति होती हैं यह तो आप जान ही गए होंगे। सच्चा प्यार जिंदगी को नए नजरिये से देखने में सक्षम बनाता हैं। यह आपके अंदर साकारत्मक उर्जा का संचार करता हैं। प्यार होने पर ऐसा लगता हैं जैसे प्रकृति द्वारा बनायीं गयी हर चीज बेहद खुबसुरत हैं।

प्यार का संबंध विश्वास और एक दुसरे को समझने से हैं। सच्चे प्यार में एक दुसरे के प्रति सम्मान होता हैं। प्यार एक ऐसा खुबसुरत एहसास हैं जिसकी वास्तव में कोई परिभाषा नहीं हैं। जब कोई प्यार में होता हैं तो वः दिम्माग की अपेक्षा दिल की बात सुनता हैं क्योकिं उसे खुद से ज्यादा अपने पार्टनर पर विश्वास होता हैं। लेकिन आपने कई फ़िल्में और प्यार के किस्से सुने होंगे। कई लोग शारीरिक आकर्षण को ही प्यार समझ बैठते हैं तो अगले ही I LOVE U बोल देते हैं। लेकिन शारीरिक आकर्षण कभी भी प्यार की बराबरी नहीं कर सकता हैं। सिर्फ खूबसूरती देखकर प्यार का होना पॉसिबल ही नहीं हैं। तो आइयें जानते हैं की झूठे प्यार को कैसे पहचाने ताकि समय रहते दिल टूटने से रोका जा सकें।

Also, Read पशुपति व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं

झूठे प्यार को कैसे पहचाने – 5 तरीके

दोस्तों झूठे प्यार की परख करना इतना भी मुश्किल काम नहीं हैं। आप आसानी से झूठे प्यार का परदाफाश कर सकते हैं। नीचे झूठे प्यार को पहचानने का तरीका बताया गया हैं ध्यान से पढ़े और समझे।

1. विश्वास की कमी से झूठे प्यार को कैसे पहचाने

कहते हैं की विश्वास ही प्यार का दूसरा नाम हैं। अगर प्यार में विश्वास की जगह शक लेने लगे तो समझ जाइए की यह प्यार नहीं हैं। प्यार में विश्वास का होना बेहद आवश्यक हैं। प्यार होने के बाद अगर आपका पार्टनर आप पे बार- बार शक करता हैं या आपके सोशल मीडिया एकाउंट्स के पासवर्ड मांगता हैं तो यह झूठे प्यार की निशानी हो सकती हैं। अगर यह झूठा प्यार नहीं भी हैं तो भी ऐसे व्यक्ति से रिश्ता रखना आपके भविष्य को संकट में डाल सकता हैं। मैंने शक के कारण कई खून के रिश्ते भी टूटते बिखरते देखा हैं। इसलिए आप अगर एक दुसरे से सच्ची मोहब्बत करते हैं तो शक को दूर रखना सीखें।

Also, Read रुद्राक्ष पहनने के नुकसान और फायदे – रुद्राक्ष पहनने के बाद के नियम

2. पैसों से अत्याधिक लगाव

अगर आपका प्यार सच्चा हैं तो एक बार यह तरीका अपनी प्रेमिका पर जरुर ट्राई करें। अपनी प्रेमिका से कहे की मेरा परिवार बहुत गरीब हैं। मैं तुम्हें अच्छे सुख सुविधा नहीं दे सकता हैं। अगर आपको प्रेमिका कुछ देर के लिए खामोश हो जाएँ तो समझ लीजिये की यह प्यार नहीं हैं। यह झूठे प्यार को पहचानने का बेहतरीन तरीका हैं। अगर इसके उलट आपकी प्रेमिका किसी भी परिस्थिति में आपके साथ रहने को तैयार हैं तो समझ लीजिये यही सच्चा प्यार हैं।

3. पार्टनर से फॅमिली प्लानिंग की करें बात

सच्चे प्यार करने वाले इस फॅमिली प्लानिंग जैसे प्रश्नों से नहीं डरते। वही अगर प्यार सिर्फ शारीरिक आकर्षण के चलते हुआ हैं या सामने वाला आपको धोखा देना चाहता हैं तो फॅमिली प्लानिंग को लेकर वह आपसे ज्यादा बात करने से हिचकता हैं। जो कपल्स एक दुसरे से सच्ची मोहब्बत करते है वे हमेशा अपने भविष्य के बारें में सोचते हैं जैसे हम कहा रहेंगे, कब शादी करेंगे, हमारे कितने बच्चे होंगे इत्यादि। अगर आपका साथी इन सवालों से बचने की कोशिश करता हैं तो समझ लीजिये की यह प्यार नहीं धोखा हैं।

4. हमेशा शारीरिक सबंध बनाने के लिए फ़ोर्स करना और शादी को की बात को टालना

झूठे प्यार को कैसे पहचाने इसके लिए अब आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं हैं। अगर आपका साथी आपको बार-बार शारीरिक संबंध बनाने के लिए फ़ोर्स कर रहा हैं तो यह भी झूठे प्यार की पहचान हो सकती हैं। ऐसे में आप अपने साथी से शादी करने के विषय में बात करें। अगर आपका साथी शादी को लेकर सीरियस नहीं हैं या शादी की बातों को टालने की कोशिश करता हैं तो समझ लीजिये की यह प्यार नहीं बल्कि धोखा हैं।

Also, Read सपने में शादी की तैयारी होते हुए देखना – इसका क्या मतलब है?

5. झूठे प्यार को कैसे पहचाने – तकलीफ में

सच्चे प्यार में छोटी-छोटी तकलीफों से एक दुसरे को दर्द होना स्वाभाविक हैं। अगर आपका साथी आपके दर्द को आपके परेशानी को अपना नहीं समझता तो यह झूठे प्यार की निशानी हैं। सच्चे प्रेमी हर समय अपने साथी के बारें में सोचते हैं उनकी छोटी छोटी बातों को भी ध्यान से सुनते हैं। और उनकी तकलीफ को दूर करने का प्रयास करते हैं।

इस पोस्ट में मैंने आपको झूठे प्यार को कैसे पहचाने इसकी पूरी जानकारी प्रदान की हैं। अगर यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो इस जानकारी को जरुर से जरुर शेयर करें।

और अधिक विस्तार से जाने

Also, Read प्यार होने के बाद क्या होता है – एक ऐसा एहसास जो जिन्दगी में रस घोल देता हैं