दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय

Spread the love

दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय – क्या आप भी दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के उपाय ढूंढ रहे हैं अगर हाँ तो अप बिल्कुल सही जगह आएं हैं। आज मैं आपको दुःख और दर्द दूर करने के 5 ऐसे उपाय बताने जा रही हूँ जो बेहद असरदार हैं। दोस्तों हर किसी के जीवन में कभी न कभी ऐसा समय आता हैं जब उसे ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता हैं जिसे झेलना बहुत मुश्किल लगता हैं। कहते हैं की समय हर घाव को भर देती हैं लेकिन कुछ घाव ऐसे भी होते हैं जो समय के साथ और भी गहरे होते जाते हैं और बीमारी का रूप ले लेते हैं। इसलिए समय रहते दर्द और दुःख भरी यादों से छुटकारा पाना आवश्यक हैं। मेरे बताएं गए 5 उपाय से आपको पिछली कडवी यादों को भूलने में मदद मिलेगी।

दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय
दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय

दोस्तों कभी-कभी दुख और दर्द भरी यादों को भूलना असंभव लगने लगता हैं। कोई प्रेम में धोखे से दुःख को नहीं भूल नहीं पाता तो कोई अपनों को छोड़ के जाने के दुःख को नहीं भूल पाता हैं। जब कोई अपना दुःख देता हैं तो उसे भूल पाना बेहद मुश्किल लगता हैं। जब हमारे दिमाग में अतीत की बातें चलती रहती हैं तो यह हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित करती हैं। दुख और दर्द भरी यादों को भूल न पाने के कारण व्यक्ति अपनी दैनिक कार्यों को भी सही तरीके से नहीं कर पाता हैं। जब यह समस्या कई महीनों या कई सालों तक रहती हैं तो यह एक मानसिक बीमारी का रूप ले लेती हैं। आइये जानते हैं दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय जो बेहद कारगर हैं।

दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय

1. ऐसे लोगों से दुरी बनायें जो आपको अतीत की याद दिलाते हैं

हमारे आस पास ऐसे कई लोग होते हैं जो अक्सर हमें हमारे अतीत को लेकर कमेंट करते हैं। अगर आपके आसपास का कोई व्यक्ति बार-बार आपके अतीत को खुरेदने की कोशिश करता हैं तो ऐसे व्यक्ति से दुरी बनायें रखें। दरसल कई लोग दुसरे की ख़ुशी से जलते हैं और चाहते हैं की सामने वाला हमेशा दुखी रहें। साथ ही नेगेटिव सोच वाले व्यक्ति से दूर रहने पर दुख और दर्द भरी यादों को भूलने में सहायता मिलेगी। अगर संभव हो तो अतीत से जुड़ी जगह को कुछ महीनों के लिए छोड़ दें।

2. सकारात्मक सोच वाले व्यक्ति के साथ समय बिताएं

सकारात्मक सोच दुख और दर्द भरी यादों को भूलने में आपकी मदद कर सकता हैं। जब हम कभी विषम परिस्थितयों का सामना करते हैं तो हम सिर्फ नकारात्मक सोचने लगते हैं। जैसे किसी की मृत्यु होने पर लोग ऐसा सोचने लगते हैं की अब तो कुछ बचा ही नहीं वैसे ही प्यार में धोखा मिलने पर लड़का या लड़की सोचने लगते हैं की उसके बीना मेरा जीवन बेकार हैं। ऐसे नकारात्मक सोच हमें दुःख दर्द को भूलने से रोकते हैं। इसलिए अपनी सोच को सकारात्मक करें। आप सोचे की जो कुछ भी होता हैं सब अच्छे के लिए ही होता हैं या वह लड़की या लड़का मेरे लायक था ही नहीं। नकारात्मक सोच वाले व्यक्ति से दूर रहने का प्रयत्न करें। ऐसे लोगों के साथ रहें जो आपको सही रास्ता दिखाएँ जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा दे।

Also, Read डर को भगाने का तरीका – डर को भगाने के लिए 5 टिप्स

3. खुद को व्यस्त रखें

कहते हैं न खाली मन शैतान का। जब हम खाली बैठे रहते हैं तो हमारे मन अतीत से जुड़े सैकड़ो प्रश्न दौड़ते रहते हैं ऐसे में दुःख दर्द को भूलना बहुत मुश्किल होता हैं। इसलिए घर पर खाली बैठे रहने से अच्छा हैं की कुछ काम करें। जब आप काम बिजी रहेंगे तो आपके माइंड से अतीत की यादे धुंधली पड़ने लगेंगी।

4. थोड़ा समय दें

कई बार हम दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के हर संभव कोशिश करते हैं लेकिन हम यादों को मिटा नहीं पाते हैं। कहते हैं की समय सभी घाव को भर देती हैं। इसलिए घबराने के बजाय सयंम से काम ले। आप खाली समय में मूवीज और मोटीवेशनल वीडियोस देखें। यानी स्वयं तब तक बिजी रखने की कोशिश करें जब तक की आपकी बुरी या दुःख भरी यादें धुंधली न हो जाएँ।

Also, Read डर को भगाने का तरीका – डर को भगाने के लिए 5 टिप्स

5. अकेले रहने से बचे

जब कोई व्यक्ति किसी कारण वश दुखी रहता हैं तो वह धीरे-धीरे अपने दोस्तों और फॅमिली से दुरी बनाने लगता हैं। यही वजह हैं की व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता हैं। अकेले रहने पर हर वक़्त व्यक्ति के मन में पुरानी और कड़वी यादें दौड़ती रहती हैं। इसलिए कोशिश करें की अपना समय दोस्तों या फॅमिली के संग ज्यादा बिताएं। ध्यान रहें की आपको वैसे लोगों से दूर रहना हैं जो आपकी यादों को बार-बार ताजा करते हैं। अगर आपके दोस्त आपकी एक्स गर्लफ्रेंड के बारें में बार -बार पूछते हैं तो उनसे साफ-साफ कहें की उसके बारें में बात न करें।

Also, Read लड़कियों के प्यार के इशारे समझना – 5 इशारे

निष्कर्ष

दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय बहुत ही असरदार हैं इसकी मदद से आपको अपने दुखो को भूलने में मदद मिलेगी। दुःख दर्द भूलने के लिए हमें सकारात्मक सोच की आवश्यकता होती हैं। स्वयं को कार्यों में बिजी रखकर और खुच की सोच बदलकर इस समस्या का समाधान निकल सकता हैं। जब भी आपके मन में अतीत की बातें दौड़ने लगे तब आप म्यूजिक सुने या खुद को समझाने की कोशिश करें की जो बीत चूका हैं वह वापस नहीं आने वाला हैं।

दोस्तों इस पोस्ट के द्वारा मैंने आपको दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय बताएं हैं। मुझे यकीन हैं की यह आपके दुखों को भूलने में मदद करेगी। अगर यह उपाय आपको पसंद आएं हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें।

Also, Read झूठे प्यार को कैसे पहचाने – 5 आसान तरीके अभी आजमायें

2 thoughts on “दुख और दर्द भरी यादों को भूलने के 5 उपाय”

Leave a Comment