Parsley in Hindi – पार्सले के असीमित फायदे हैरान कर देगी

Spread the love

पार्सले इसे हिंदी में (Parsley in Hindi) अजमोद कहा जाता हैं। इसका उपयोग कई तरह के बीमारियों में आयुर्वेदिक औषधि में रूप में किया जाता हैं। अनेक तरह के पोषक तत्वों से भरे अजमोद हमारे स्वास्थ्य का ख्याल रखता हैं। इसमे कैल्शियम, फाइबर, मग्निशियम, लौह तत्व, जस्ता, नायसिन, कार्बोहाइड्रेट, एपिजेनिन, विटामिन्स जैसे A,C,B और प्रोटीन के साथ एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी माना जाता हैं। आइये इस पोस्ट के माध्यम से पार्सले की पत्तियों (Parsley leaves in Hindi), पार्सले के बीज (Parsley Seeds) और इसके फायदे के बारें में विस्तार से जानते हैं।

Parsley in Hindi - पार्सले के असीमित फायदे हैरान कर देगी
Parsley in Hindi – पार्सले के असीमित फायदे हैरान कर देगी

पार्सले क्या हैं? – Parsley in Hindi

अजमोद (Parsley in Hindi) एक जड़ी बूटी पौधा हैं जिसका वैज्ञानिक नाम Petroselinum Crispum हैं। यह Apiaceae कुल से संबंध रखता हैं। इसका पौधा गाजर के पेड़ जैसा दीखता हैं। इसकी जड़े भी गाजर जैसी होती हैं। पार्सले के बीज का अंकुरण बहुत ही धीमी गति से होती हैं। इसके बीज (Parsley Seeds) को पानी में फुलाकर बोया जाता हैं जिससे यह 3 हफ्ते में उग आते हैं। इसके सही तरीके से अंकुरण हेतु पर्याप्त धुप की जरूरत होती हैं। कई लोग इसे गमले में रोपते हैं। इसे गमले में भी रोपा जा सकता हैं लेकिन इसके लिए गमला गहरा होना चाहिए। पार्सले की पत्तियां गुच्छेदार और ग्रीन कलर के होते हैं।

इसकी ऊंचाई एक फीट तक हो सकती हैं। दुनियां के कई देशों में इसका उपयोग रसोई में किया जाता हैं। यह खाने के स्वाद कोई कई गुणा तक बढ़ा देता हैं। इसके रोपण के लिए दोमट मिट्टी उपयुक्त हैं। दोमट मिट्टी में यह पौधा जल्दी फलता फूलता हैं। इसके पौधे को अक्टूबर नवम्बर में लगाना सबसे बेस्ट हैं।

पार्सले के फायदे (Parsley Benefits)

दोस्तों, पार्सले स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत फायदेमंद माना जाता हैं इसके बीज से लेकर पत्तियाँ तक रोगों के निवारण में उपयोगी हैं। तो चलिए जानते हैं पार्सले के फायदे (Parsley Benefits) के बारें में। नीचे विस्तार से इसके फायदे बताएं गए हैं:

1. हेल्दी स्किन में – Parsley Benefits in Hindi For Healthy Skin

Vitamin C, A और प्रोटीन से भरपूर पार्सले का सेवन आपके स्किन को हेल्दी बनाता हैं। साथ ही इसके सेवन करते रहने से त्वचा पर असमय झुर्रियां आने की समस्या दूर होती हैं। यह आपके स्किन को चमकदार और स्वस्थ बनाता हैं। आप इसका सेवन सलाद और शब्जियों में डालकर कर सकते हैं। इसके अलावे चावल में डालकर भी इसका सेवन किया जा सकता हैं। कई होटल मेनू लिस्ट में भी आपने पार्सले चावल देखा होगा।

Also, Read स्किन एलर्जी का देसी इलाज – 3 सबसे प्रभावकारी घरेलू उपाय

2. पाचनतन्त्र की मजबूती में (Parsley in Hindi)

अगर आप लम्बे समय से कब्ज, गैस या पेट सम्बन्धि समस्या से जूझ रहे हैं। तो आप खाने में पार्सले को जरुर शामिल करें। इसमें मौजूद फाइबर पाचन के लिए बेहद अच्छा माना जाता हैं। कब्ज की स्थिति में इसकी पत्तियों को पीसकर (Parsley leaves in Hindi) रस निकाल लें। इन पत्तियों के रस को दिन में एक बार पीने से कब्ज की समस्या दूर होती हैं।

3. आँखों के स्वास्थ्य के लिए

पार्सले (Parsley in Hindi) में पायें जाने वाले विटामिन A, कैरोटीनॉयड आँखों के लिए भुत फायदेमंद हैं। यह हमारी आँखों को संक्रमण से बचाकर अधिक उम्र तक द्रष्टि दोष से बचाता हैं। इस तरह यह आँखों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता हैं।

Also, Read आँखों का धुंधलापन कैसे दूर करे – Sundarta

4. सुजन की समस्या में (Parsley in Hindi)

जी हाँ, पार्सले का सेवन सुजन में रामबाण इलाज की तरह हैं। दरसल इसमें पायें जाने वाले विटामिन्स और एंटीऑक्सीडेंट गुण सुजन की समस्या को दूर करता हैं। अगर आप जोड़ों के दर्द और सुजन से परेशान हैं तो इसका सेवन आपको लाभ दे सकता हैं। इन सबके अलावे यह कैंसर , अल्जाइमर आदि रोगों के बचाव हेतु भी उपयोग में लाया जाता हैं। दरसल इसमें मौजूद एपिजेनिन ब्रैस्ट कैंसर की स्थिति आने से रोकता हैं।

Also, Read स्वस्थ रहने के लिए सुबह उठकर सबसे पहले क्या खाना चाहिए

5. हड्डियों के लिए

अगर आप हड्डियों से जुड़ी समस्या से पीड़ित हैं या आपकी हड्डियाँ कमजोर हैं तो इसका सेवन फायदेमंद साबित हो सकता हैं। पार्सले मे मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत करता हैं। साथ ही इसमें विटामिन k भी होता हैं तो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक होता हैं।

निष्कर्ष

इस लेख के द्वारा मैंने आपको विस्तारपूर्वक पार्सले (Parsley in Hindi) से जुड़ी समस्त जानकारी आपके समक्ष रखी हैं। इस लेख में पार्सले के फायदे और इसमें पाए जाने पोषक तत्वों के बारें में समुचित जानकारी प्रदान की गयी हैं। पार्सले हड्डियों के विकाश और सुजन में काफी फायदेमंद माना जाता हैं। लेकिन ध्यान रहें की दवा के रूप में इसके उपयोग करने से पहले किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

उम्मीद हैं की पार्सले (Parsley in Hindi) से सबंधित यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। अगर आप इस तरह की जानकारियां और पढना चाहते हैं तो sundarta।in पर आपको हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी तमाम तरह की जानकारियां मिलेंगी। अगर यह पोस्ट आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर करना न भूलें।

और अधिक पढ़ें विकीपीडिया पर