निर्गुंडी के फायदे (Nirgundi ke fayde)

Spread the love

निर्गुंडी के फायदे (Nirgundi ke fayde): नमस्कार दोस्तों हम आपका स्वागत करते हैं अपने नए ब्लॉग पोस्ट में और आज हम बात करेंगे, निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) के बारे में। हमारी प्रकृति ने हमें कई तरह की जड़ी बूटियां प्राप्त कराई है। कई जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करके हम अपने आप को स्वस्थ रखते हैं और कई जड़ी बूटियों के बारे में हमें मालूम नहीं होता। निर्गुंडी भी एक ऐसी जड़ी बूटी है जिसके बारे में शायद ही आप लोगों को पता होगा। इस जड़ी बूटी का इस्तेमाल कई सालों से औषधीय रूप में किया जा रहा है  जो हमारी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए मदद करती है। सुंदरता के इस लेख में आज मैं आपको बताने जा रहा हूं निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde), इसमें मिलने वाले पोषक तत्व, इसके इस्तेमाल, और इसके नुकसान के बारे में।

निर्गुंडी के फायदे (Nirgundi ke fayde)
निर्गुंडी के फायदे (Nirgundi ke fayde)

Nirgundi Kya Hai (निर्गुन्डी क्या है)

पहले जानते हैं निर्गुंडी है क्या?

निर्गुंडी एक ऐसा पौधा है जिसको  औषधीय रूप में इस्तेमाल किया जाता है और इस का साइंटिफिक नाम विटेक्स नेगुंडो है। संपूर्ण भारत में मिलने वाली निर्गुंडी एक प्रकार की झाड़ी होती है। इस पौधे का इस्तेमाल पूर्ण रूप से करा जाता है जिसमें इसके पत्ते, जड़े, और बीजों का इस्तेमाल होता है। इसमें मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी, और anti-diabetic जैसे गुण हमारे लिए फायदेमंद होते हैं। निर्गुंडी हमें स्वस्थ बनाने में और हमारी बीमारियों को दूर करने में मदद करता है।

Also, Read अर्जुनारिष्ट के फायदे (Arjunarishta ke fayde)

निर्गुन्डी में पोषक तत्व

जानते हैं निर्गुंडी में मिलने वाले पोषक तत्व के बारे में:

इसमें मिलने वाले पोषक तत्व जैसे कैल्शियम, सोडियम, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट, fat,  प्रोटीन, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन सी, मैग्नीशियम, आयरन, जिंक, इत्यादि काफी ज्यादा फायदे देते हैं।

निर्गुन्डी इस्तेमाल कैसे करें (nirgundi istemal karne ka tarika)

अब जानेंगे निर्गुंडी के इस्तेमाल के बारे में

  • आप लोग इसके पत्तियों को उबालकर सर्दी खांसी के दौरान भाप ले सकते हैं।
  • अगर आपको पेशाब करते समय जलन होती है तो आप इसे नारियल पानी के साथ भी ले सकते हैं।
  • अगर निर्गुंडी का लेप आप अपने फोड़े और फुंसी में लगाएंगे तो ठीक होंगे।
  • निर्गुंडी  से बना हुआ काढ़ा गैस को दूर करने में मदद करता है।

Also, Read एलोवेरा जेल के फायदे (Aloe Vera gel ke fayde)

फायदे (Nirgundi ke fayde)

अब जानेंगे निर्गुंडी के फायदे(nirgundi ke fayde) के बारे में:

सुजन में निर्गुंडी के फायदे

निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) में सबसे पहला फायदा, सूजन को करता है कम। आपको सूजन की समस्या हो गई है तो निर्गुंडी का इस्तेमाल करके फायदा हो सकता है। एनसीबीआई की एक शोध के दौरान यह पता चला कि निर्गुंडी में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं जो आपके सूजन की समस्या में राहत दिलाते हैं। अगर आपको गठिया की परेशानी है तो उसमें भी यह मदद करती है। जोड़ों की सूजन की वजह से गठिया हो सकता है और सूजन को ठीक करने के लिए निर्गुंडी का इस्तेमाल किया जाता है।

Also, Read अकरकरा के फायदे (Akarkara ke fayde)

घाव भरने में निर्गुंडी के फायदे

निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) में दूसरा फायदा है, घाव को भरने में करता है मदद। चोट लगने के कारण जो घाव शरीर में हो जाते हैं उनको भरने के लिए इसके पौधे का इस्तेमाल किया जाता है। निर्गुंडी के पौधे का हर एक हिस्सा घाव भरने के इस्तेमाल में आता है। अगर आप लोग निर्गुंडी का तेल अपने घाव पर लगाएंगे तो उससे भी पुराने घाव भरते हैं। निर्गुंडी में मिलने वाले गुण घाव को भरने में और साफ करने में मदद करते हैं। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो  बैक्टीरिया को मारकर घाव भरने में मदद करते हैं।

सर दर्द में

निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) में तीसरा फायदा है, सिर दर्द में है लाभकारी। सिरदर्द होना एक आम समस्या है और इस समस्या का निवारण निर्गुंडी  के इस्तेमाल से हो सकता है। सिर में दर्द होने की समस्या को ठीक करने के लिए निर्गुंडी का इस्तेमाल काफी सालों से किया जा रहा है। एक स्टडी के दौरान यह पता चला कि निर्गुंडी की पत्तियों में दर्द से छुटकारा दिलाने वाले गुण मौजूद होते हैं। यही कारण है कि यह सिर दर्द में भी काम करता है।

Also, Read मेथी दाना खाने के फायदे (Methi dana khane ke fayde)

त्वचा के लिए

निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) में चौथा फायदा है, त्वचा की समस्याओं को करता है दूर।  एनसीबीआई के शोध से पता चलता है कि निर्गुंडी में त्वचा से जुड़ी समस्याओं को छुटकारा दिलाने वाले गुण हैं। निर्गुंडी में  मिलने  वाले एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण आपकी त्वचा से बैक्टीरिया को मारते है और त्वचा को साफ रखते हैं। अगर आपको एलर्जी है तो भी निर्गुंडी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

बालों के लिए

निर्गुंडी के फायदे (nirgundi ke fayde) में पांचवा फायदा है, बालों के लिए है लाभदायक। निर्गुंडी आपके सेहत को तो बनाए रखता ही है साथ ही साथ आपके बालों के लिए भी फायदेमंद बताया गया है। आप लोग निर्गुंडी की पत्तियों  का रस निकालकर उसे हेयर टॉनिक की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपको डैंड्रफ या फिर बाल झड़ने की शिकायत है तो आप लोग नारियल तेल में  इस टॉनिक को डालकर इस्तेमाल कर सकते हैं। निर्गुंडी का पेस्ट अगर बालों में लगाया जाए तो यह आपके बालों को  बढ़ाएगा और उन्हें मजबूत बनाने में मदद करेगा।

Also, Read पुदीना के फायदे (Pudina ke fayde)

निर्गुंडी के नुकसान (Nirgundi Ke Nuksan)

अब हम जानेंगे निर्गुंडी के नुकसान के बारे में:

  • अधिक मात्रा में निर्गुंडी की पत्तियों का जूस पीकर योन की इच्छा समाप्त होने लगती है।
  • अगर आप गर्भवती है तो इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने की वजह से महिलाओं में स्तन का दूध कम होने लगता है।

Also, Read Anar Khane Ke Fayde (अनार खाने के फायदे)

FAQ

Q. क्या निर्गुंडी के पत्ते खाए जाते हैं?

Ans: निर्गुंडी से बना हुआ  काढ़ा इस्तेमाल किया जाता है।

Q. निर्गुंडी को हिंदी में क्या कहते हैं?

Ans: निर्गुंडी का हिंदी नाम शिवारी है।

Q. आयुर्वेद में निर्गुंडी क्या है?

Ans: आयुर्वेद के अनुसार निर्गुंडी एक जड़ी बूटी है जिसका इस्तेमाल करके कई बीमारियों को ठीक किया जाता है।

Q. निर्गुंडी का इस्तेमाल गठिया के लिए कैसे करें?

Ans: आप लोग निर्गुंडी चूर्ण चिकित्सक द्वारा बताए गए मात्रा में लें।

दोस्तों इस पोस्ट में निर्गुंडी के फायदे (Nirgundi ke fayde) बताएं गएँ हैं। अगर आपको कोई अन्य जानकारी चाहिए कमेंट जरुर करें।

Also, Read जमीन पर सोने के फायदे (Jameen Par Sone ke Fayde)

Leave a Comment