गर्भ ठहरने की विधि – आसान और जबरदस्त उपाय

Spread the love

गर्भ ठहरने की विधि – हर एक शादी शुदा जोड़ी चाहता हैं की उनके घर में भी बच्चे की किलकारी गूंजे। दोस्तों कई बार महिलाओ में जल्दी गर्भ न ठहरने की समस्या होती हैं। ऐसे में वे गर्भ ठहरने की विधि google पे सर्च करते हैं। अगर आप भी गर्भ ठहरने की विधि जानना चाहते हैं तो आज आपको इसके बारें में विस्तार से बताएँगे इसलिए इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़े। इस पोस्ट में हम आपको ऐसे उपाय बताएँगे जिससे गर्भ ठहरने में मदद करेगी।

गर्भ ठहरने की विधि
गर्भ ठहरने की विधि

दोस्तों गर्भधारण की कोशिशे नाकाम होने के कई कारण हो सकते हैं। जब गर्भधारण में समस्या आती हैं तो अक्सर कपल्स चिंतित हो जाते हैं। गर्भ न ठहरने के अनेकों कारण हो सकते हैं लेकिन ज्यादात्तर मामलों में अनियमित पीरियड ही मुख्य हैं। हालाँकि इसके अलावे आपकी जीवनशैली खानपान और अन्य कारण भी जल्दी गर्भधारण करने की क्षमता को प्रभावित कर सकती हैं। इसलिए सबसे पहले हम गर्भ न ठहरने के कारणों को जान लेते हैं उसके बाद आपको गर्भ ठहरने की विधि विस्तार से बताएँगे।

गर्भ न ठहरने के कारण

1. स्ट्रेस या तनाव

इस भागमभाग जिन्दगी में तनाव में रहना बेहद आम हैं किसी को ऑफिस का टेंशन हैं तो किसी को आर्थिक परेशानी ऐसे में यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करता हैं। कई शोध से पता चला हैं की पुरुषों में स्पर्म काउंट कम होने की एक बड़ी वजह तनाव भी हैं। साथ ही यह महिलाओं में भी पीरियड्स को प्रभावित करता हैं। यह एक बड़ी वजह हो सकती हैं गर्भ न ठहरने की।

2. अत्याधिक नशे में रहना

नशीली चीजें जैसे शराब, गांजा, सिगरेट आदि सेहत के लिए बेहद हानिकारण होते हैं। यह स्त्री और पुरुष दोनों को समान रूप से हानि पहुंचाते हैं। इन चीजों से सेवन से प्रजनन क्षमता कमजोर ही नहीं होती बल्कि इसके कारण व्यक्ति नपुंसक भी हो सकता हैं। इसलिए अगर आप भी नशीली चीजों का सेवन करते हैं तो डॉक्टर से मिलकर इसका समाधान ढूंढे। जितनी जल्दी हो सके नशे की लत को धीरे-धीरे छोड़ देना ही उचित हैं।

Also, Read क्या लड़कों को भी पीरियड्स होते हैं

3. विटामिन D की कमी से

यह तो सर्वविदित हैं की विटामिन डी गर्भधारण करने की क्षमता को बढाता हैं। गर्भ ठहरने के लिए विटामिन डी का महत्वपूर्ण योगदान होता हैं। अगर आपके शरीर में भी विटामिन डी की कमी हैं तो इसके कारण गर्भधारण में परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं।

Also, Read 2 महीने से पीरियड नहीं आया तो क्या करें । Sundarta

4. स्पर्म काउंट

पुरुषों में स्पर्म काउंट का लो होना भी गर्भधारण में रोड़ा बन सकता हैं। स्पर्म काउंट का लो होना कई कारणों से हो सकता हैं जैसे शारीरिक कमजोरी, शराब और सिगरेट अधिक पीना आदि। इन नशीलें पदार्थों के सेवन से अक्सर ही स्पर्म की क्वालिटी ख़राब और कम हो जाती हैं। जिसके कारण गर्भधारण में परेशानी होती हैं।

Also, Read प्रेगनेंसी में पीरियड जैसा दर्द होना क्या है

5. पौलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम

इस समस्या के कारण महिलाओं में होरमोंस असुन्तालित हो जाती हैं। इस रोग के होने पर महिलाओं में ओव्युलेसन की समस्या आ जाती हैं जो गर्भ न ठहरने का कारण बनती हैं। इसका इलाज संभव हैं, डॉक्टर से मिलकर उचित सलाह और दवाइयां लेकर इस समस्या को दूर किया जा सकता हैं।

6. अन्य कारण

इसके अलावे यह महिलाओं में प्रोजेस्ट्रोन होरमोंस की कमी, गर्भनिरोधक गोली के अधिक सेवन से , नींद में कमी, पीरियड में अनियमितता, ज्यादा उम्र, थायरायड आदि कारणों से भी गर्भधारण की समस्या उत्पन्न होती हैं।

Also, Read लू से बचने के उपाय (Lu Se Bachne Ke Upay)

गर्भ ठहरने की विधि – सही समय का का करें चयन

अगर आप मासिक चक्र शुरू होने के 11 वे दिन से लेकर 17 वे दिन तक का चयन करेंगे तो गर्भ ठहरने के चांसेस सबसे ज्यादा होता हैं। यह महिलाओं का ओवेलुशन पीरियड होता हैं। एक्सपर्ट्स का कहना हैं की इस पीरियड में प्रेगनेंसी के चांसेस 3 गुणा तक बढ़ जाती हैं।

गर्भ ठहरने की विधि – उचित आहार

कई हेल्थ एक्सपर्ट्स ने दावा किया हैं की जल्द प्रेग्नेंट होने के लिए खान पान का सही होना बेहद आवश्यक होता हैं। अगर महिलाएं कैल्शियम, आयरन और विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थ ग्रहण करती हैं तो इससे गर्भधारण करने में समस्या नहीं आती हैं।

लुब्रिकेंट्स ( गर्भ ठहरने की विधि )

जी हाँ लुब्रिकेंट के इस्तेमाल के कारण भी गर्भधारण में परेशानी होती हैं। दरसल लुब्रिकेंट का उपयोग करने से पुरुष का स्पर्म महिला के ओवरी तक नहीं पहुँच पाता हैं। यह गर्भधारण की सम्भावना को पूरी तरह ख़त्म कर सकती हैं। महिला के शरीर में जो लिक्विड बनता हैं वः स्पर्म को ओवेरी तक ले जाने में सक्षम हैं। इसलिए गर्भ ठहरने की विधि में लुब्रिकेंट का इस्तेमाल बिल्कुल नं करें।

Also, Read प्रेगनेंसी में मंदिर जाना चाहिए या नहीं – विस्तार से

गर्भ ठहरने की विधि – क्या खाएं

पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए माका रूट का सेवन बेहद फायदेमंद हैं। प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ जैसे नट्स, दाल, मछली आदि का सेवन करें। इसके सेवन से ओव्युलेटरी इनफर्टिलिटी जैसी समस्या नहीं आती हैं। इसके अलावे विटामिन डी के लिए सूर्य की धुप में बैठना फायदेमंद हो सकता हैं साथ ही पुरुषों के लिए शिलाजीत और अश्वगंधा बेहद फायदेमंद हैं। यह फर्टिलिटी में सुधार करता हैं। इसलिए उचित आहार भी गर्भ ठहरने की विधि में से एक हैं।

Also, Read नमक से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें – घर पे ही आसानी से

गर्भ ठहरने की विधि या उपाय

लौंग का सेवन

पुरुषों और महिलाओं में प्रजजन क्षमता को बढ़ाने के लिए लौंग का सेवन बेहद उपयोगी हैं। इसमें पाए जाने वाले फोलिक एसिड, जिंक और एंटीऑक्सीडेंट फर्टिलिटी को बढ़ाने में मदद करती हैं। इसलिए रोजाना 2 से 4 लौंग का सेवन जरुर करें।

Also, Read प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए (Pregnancy Me Kya Khana Chahiye)

निष्कर्ष

गर्भ ठहरने की विधि में आज मैंने आपको कुछ उपाय बताएं हैं साथ ही इसके कारण विशेष तौर पे बताया गया हैं। अगर आपके शरीर में सबकुछ सामान्य हैं तो ये उपाय आपकी मदद कर सकता हैं। इन उपायों के बाद भी प्रेगनेंसी में समस्या हैं तो आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और उचित सलाह के आधार पर दवाइयां लेनी चाहिए।

गर्भ ठहरने की विधि का यह लेख आपको कैसा लगा कमेंट के द्वारा हमें जरुर बताएं। अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी हैं तो इसे अधिक से४ अधिक शेयर करें।

अन्य जानकारी के लिए यहाँ पढ़ें

Also, Read Sesame Seeds in Hindi – तिल के बीज के अद्भुत फायदे जानकर हैरान हो जायेंगे