शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं – विस्तार से जाने

Spread the love

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं – देवो के देव महादेव जिन्हें महाकाल के नाम से भी जाना जाता हैं वे अत्यंत दयालु स्वभाव के हैं। हिन्दू धर्म में शिवलिंग की पूजा का खास महत्त्व हैं। माना जाता है की अगर सच्चे मन से भगवन शिव की आराधना की जाएँ तो वे प्रसन्न होकर सारी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। सावन में शिवलिंग पर जल चढाने के लिए लाखों श्रद्धालु लम्बी लाइने लगाकर लम्बी कतारों में अपनी बारी का इन्तेजार करते हैं। शिव लिंग पर जल चढ़ाना बहुत शुभ माना जाता हैं। शिव लिंग पर जल चढाने के बाद कई लोग के मन में एक सवाल आता हैं की शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं। आइये आपको भगवान शिव से समबन्धित कुछ सवालों के जवाब देते हैं।

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं - विस्तार से जाने
शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं – विस्तार से जाने

भगवान शिव कौन हैं?

शिव त्रिदेवों में से एक हैं। त्रिदेवों में ब्रह्मा, विष्णु और शिव आते हैं। तीनों देवों के कार्य बंटे हुए हैं। शिव को संहारकर्ता कहा जाता हैं। इन्हें शंकर, गंगाधर, नटराज, पशुपतिनाथ, नीलकंठ आदि नामों से भी जाना जाता हैं। वेदों में इन्हें रूद्र कहकर संबोधित किया गया हैं। इनकी पत्नी माता पार्वती हैं जिन्हें शक्ति भी कहा जाता हैं। शक्ति के बीना शिव अधूरे माने जाते हैं। देवों के सेनापति कार्तिकेय और प्रथम पूज्य भगवान गणेश इनके पुत्र हैं। शिव को योगी भी कहा जाता हैं। इनके माथे पर चन्द्र, गले में सर्प, हाथ में त्रिशूल हैं। भगवान शिव की पूजा मूर्ति और शिवलिंग के माध्यम से की जाती हैं।

शिव पुराण के अनुसार ब्रह्मा विष्णु और शिव तीनों एक ही हैं और अलग हैं तो बस उनके कार्य। आइये अब जानते हैं की शिवलिंग पर जल चढाने के फायदे क्या हैं और शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं.

Also, Read राहु-केतु और शनि को प्रसन्न करने के खास उपाय

शिवलिंग पर जल चढाने के फायदे

शास्त्रों के अनुसार शिवलिंग पर जल चढ़ाना अति शुभ माना गया हैं। लेकिन जल चढाने के कुछ नियमों का पालन करना भी आवश्यक हैं। आइये सबसे पहले शिवलिंग पर जल चढाने के फायदे के बारें में जानते हैं:

1. कुंडली दोष दूर होती हैं ग्रहों के अशुभ प्रभाव नष्ट होते हैं
2. कार्य में सफलता के साथ धन की प्राप्ति होती हैं
3. समाज में मान सम्मान की वृद्धि होती हैं
4. शारीरिक कष्ट दूर होती हैं साथ ही नकारत्मक शक्तियों से छुटकारा मिलता हैं।
5. मन उपस्थित गंदे और गलत विचार दूर होते हैं।
6. जीवन में शांति का अनुभव होता हैं। मन सकारात्मक उर्जा से भर जाता हैं।

जल चढाने का तरीका – शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं

कई लोग शिवलिंग पर जल तो चढाते हैं लेकिन उन्हें उचित लाभ नहीं मिलता हैं इसका कारण हैं गलत तरीके से जल चढ़ाना। शिवलिंग पर जल धीरे धीरे चढ़ाना चाहिए और मन किसी भी प्रकार का विकार नहीं रखना चाहिए। अगर आप सच्चे मन से शिवलिंग पे जल चढ़ाएंगे तो लाभ अवश्य मिलेगा। भगवान शिवलिंग पर जल चढाते वक़्त नमो नीलकण्ठाय मन्त्र का जाप अवश्य करें। आप जल ताम्बे के पात्र में या मिट्टी के पात्र में ले सकते हैं। कई पंडितों के अनुसार शिवलिंग पर जल बैठ कर चढ़ाया जाना शुभ हैं।

Also, Read सूर्य को जल किस दिन नहीं चढ़ाना चाहिए – जल चढाने के फायदे

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं

दोस्तों आपको बता दे की शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं इस सवाल का जवाब शिव पुराण में विस्तार से बताया गया हैं। जी हाँ 22वे अध्याय के 18वे श्लोक में जल पीने को लेकर विस्तार से लिखा गया हैं। शिव पुराण के अनुसार शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल आपको रोगों से छुटकारा दिलाता हैं साथ ही नकारात्मक उर्जा से आपको दूर रखता हैं। इस जल को अमृत के समान बताया गया हैं जो मानसिक कष्ट को दूर करने में सहायता करता हैं। इस जल को पीते वक़्त कुछ बातों का खास ख्याल रखना भी आवश्यक हैं। जी हाँ यह जल पीते समय किसी के पैरों में या शिवलिंग पर नहीं गिरना चाहिए। अगर ऐसा होता हैं तो आपको कोई लाभ नहीं मिलता हैं।

Also, Read औरतों को शनि देव की पूजा करनी चाहिए या नहीं

निष्कर्ष

शिव को दानी और भोला भी कहा जाता हैं। वह अपने भक्तों पे बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। अगर कोई भक्त निर्मल और कुछ अच्छा करने की इच्छा से कुछ मांगता हैं तो वे उनकी इच्छा को जरुर पूरा करते हैं। शिवलिंग पर जल चढ़ाना व्यक्ति को सकारत्मक सोच वाला बनाता हैं इससे परिवार में सुख समृधि आती हैं और सारे दोष मिट जाते हैं। शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं यह तो इस पोस्ट के द्वारा क्लियर हो गया होगा।

शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं इसकी पूरी जानकारी मैंने आपलोगों को प्रोवाइड की हैं। अगर यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करना बिल्कुल न भूलें।

Also, Read शमी का पेड़ की पहचान – शमी के पेड़ की पूजा के चौका देने वाले फायदे

1 thought on “शिवलिंग पर चढ़ा हुआ जल पीना चाहिए या नहीं – विस्तार से जाने”

Leave a Comment