लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए – 5 उपाय

Spread the love

लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए : लैट्रिन त्याग के वक्त दर्द कई बार दर्दनाक अनुभव दे सकता हैं। और यही कारण हैं की मरीज घंटों तक बाथरूम में बैठा रहता हैं। अधिकत्तर लोग मल त्याग के दौरान अपने जीवन में कभी न कभी दर्द का अनुभव करते हैं। अगर आप एक या दो दिन लैट्रिन के दौरान हल्के दर्द का अनुभव करते हैं तो यह बिल्कुल नार्मल हैं लेकिन यह समस्या अगर आपको महीनों से हैं तो सावधान हो जाइए। अगर आप भी दर्द के कारण लैट्रिन जाने से डरने लगने हैं तो निश्चिंत हो जाइए। आज के इस खास आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा की लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए। इसलिए इस पोस्ट को शुरू से अंत तक पढ़ें।

लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए - 5 उपाय
लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए – 5 उपाय

दोस्तों लैट्रिन की जगह दर्द होना एक बड़ी समस्या हैं। अक्सर इस समस्या के कारण लैट्रिन से खून भी आता हैं। लैट्रिन के वक़्त दर्द होना या खून आना बड़ी बीमारी के संकेत हैं जैसे बवासीर यानि पाइल्स और फिशर रोग। इस दर्द और खून आने की वजह से शरीर धीरे-धीरे कमजोर होने लगता हैं। हालाँकि यह जरुरी नहीं की लैट्रिन की जगह दर्द होना पाइल्स और फिशर रोग के कारण हो रहा हैं। जी हाँ यह दर्द सामान्य कारणों से भी हो सकता हैं।

कई बार लैट्रिन के दौरान हल्का दर्द कब्ज, मल में कड़ापन, इन्फेक्शन आदि के कारणों से भी होता हैं। इसलिए इस स्थिति में अपने खान पान और जीवनशैली में सुधार लाना अति आवश्यक हैं। इस समस्या को इगनोर करने से आपकी प्रॉब्लम और बढ़ सकती हैं। आइयें अब आपको बताते हैं की लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए ?

लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए

दोस्तों लैट्रिन की जगह दर्द होने पर हमें अपने लाइफस्टाइल और खान पान में सुधार की आवश्यकता पड़ती हैं। हम अपनी गलत आदतों में सुधारकर इस स्थिति से बच सकते हैं। लैट्रिन की जगह दर्द होने पर सबसे पहले हमें दर्द के कारणों का पता करना चाहिए। कारणों के पता चलने के बाद ही इसका उचित इलाज संभव हैं। इसलिए पहले हम इसका कारण जान लेते हैं:

1. बवासीर

इस समस्या में अक्सर ही लोगों को लैट्रिन की जगह दर्द का सामना करना पड़ता हैं। दरसल एनल के आस पास की नसों में जब सुजन की समस्या उत्पन्न होती हैं तब बवासीर जैसा दर्दनाक रोग सामने आता हैं। इस रोग में मल त्याग में कठिनाई का सामना करना पड़ता हैं और दर्द के साथ खून भी आ सकता हैं।

Also, Read बवासीर रोग के बारें में जाने

2. कब्ज

कभी-कभी हमारे गलत खान पान की आदतें भी दर्द का कारण बनती हैं। ज्यादा जंक फ़ूड का सेवन, कम पानी पीना , ज्यादा तेल मसालें युक्त भोज्य पदार्थों के ग्रहण करने से भी कब्ज की समस्या उत्पन्न होती हैं। कब्ज के कारण मल में कड़ापन आ जाता हैं जिससे एनल के आस पास की त्वचा छिल जाती हैं जिसके कारण दर्द का अनुभव होता हैं। हालाँकि यह अपने आप कुछ दिनों में ठीक हो जाता हैं। लेकिन इसके लिए अपने खान पान को सही करना बेहद जरुरी हैं।

3. एनल कैंसर

एनल कैंसर होने पर अक्सर ही लैट्रिन की जगह दर्द और खून आने की समस्या होती हैं। यह एनल कैंसर के प्रमुख लक्षणों में से एक हैं। अगर यह समस्या आपको कई दिनों से हो रही हैं तो डॉक्टर से मिलकर उचित इलाज करवाना आवश्यक हैं।

4. फिशर रोग

यह भी लैट्रिन से जुड़ी समस्या हैं। इस समस्या में मल त्याग के वक़्त मलाशय छिल जाने से दर्द का अनुभव हो सकता हैं। इस रोग में अक्सर खून आने की भी समस्या रहती हैं। अगर आप फिशर रोग के बारें में अधिक जानना चाहते हैं तो यहाँ विस्तार से पढ़ सकते हैं।

लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए – 5 उपाय

अब आइयें हम आपको बताते हैं लैट्रिन की जगह दर्द होने पर क्या करना चाहिए या कौन से घरेलु उपाय से इस दर्द से छुटकारा मिल सकता हैं।

1. गर्म पानी – लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए

गर्म पानी आपको लैट्रिन की जगह के दर्द से तुरंत आराम देता हैं। इससे संक्रमण के साथ-साथ सुजन को भी कम किया जा सकता हैं। इसके लिए आपको एक टब में गर्म पानी भर लेना हैं और फिर उसमें आधे चम्मच सेंधा नमक को मिला देना हैं। अब आप कम से कम आधे घंटे तक उस टब में बैठे। इस प्रक्रिया से आपको दर्द से तुरंत आराम मिलता हैं।

Also, Read लैट्रिन में खून आए तो क्या खाना चाहिए?

2. नारियल का तेल

कई बार कब्ज के कारण मल मलद्वार से बाहर नहीं आ पाता। दरसल मल में कड़ापन की वजह से यह होता हैं। इस स्थिति में गर्म पानी से निकलने के बाद मल द्वार पर सूती कपड़े से नारियल का तेल लगायें। नारियल का तेल त्वचा को ठीक तो करता ही हैं साथ ही मल त्याग करने में भी परेशानी नहीं होती हैं।

3. लैट्रिन की जगह दर्द हो तो उचित आहार लेना चाहिए

बवासीर हो या फिशर रोग ये सभी रोग अक्सर लम्बे समय से कब्ज की परेशानी से कारण होते हैं। इसलिए अपने आहार पे विशेष ध्यान रखना होता हैं। अपने आहार में ताज़ी साग शब्जियों के साथ तुरंत पचने वाले आहार लें। आप अपने आहार में गेहूं और दाल की दलिया और फाइबर युक्त भोजन को शामिल करें। पाइल्स में आप पोहा, ब्रोकली, गाजर, खीरा, पत्तागोभी, फल, कच्चा सलाद, जूस, पानी आदि का अधिक से अधिक सेवन करें। मुझे उम्मीद हैं आपको आपके सवाल लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए का जवाब मिल गया होगा।

Also, Read 4 दिन से लैट्रिन नहीं हो रहा है या 2 दिन से लैट्रिन नहीं हो रहा है तो करें यह बेहतरीन उपाय

4. व्यायाम

नियमित या रोजाना व्यायाम या शारीरिक गतिविधि जरुर करें। रोजाना व्यायाम आपके द्वारा खाएं गए आहार की अच्छी तरह से पाचन में आपकी मदद करेगा। जी हाँ व्यायाम से आपके पाचन तन्त्र मजबूत होता हैं जिससे कब्ज की समस्या दूर होती हैं।

Also, Read व्यायाम के 10 लाभ – जानकर हैरान रह जायेंगे

5. डॉक्टर से संपर्क करें

महीनों से अगर आपको यह समस्या हैं तो देरी न करें। इस समस्या के होने पर आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलकर जांच करवानी चाहिए। डॉक्टर आपको उचित सलाह देंगे।

निष्कर्ष

लैट्रिन की जगह दर्द होना सामान्य कारणों से भी हो सकता हैं। लेकिन अगर यह दर्द आपको ज्यादा परेशान कर रही हैं तो इसके कारणों का पता करना बेहद आवश्यक हैं। कारण पता चलने के बाद इस समस्या का निदान निकल सकता हैं। लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए के इस पोस्ट में कुछ घरेलु उपाय बताएं गए हैं जो आपको इस दर्द से तत्काल राहत देते हैं।

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपको लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए इसके बारें में बताया हैं। लेकिन ध्यान रहें की अगर आपको यह समस्या कई महीनों से हैं तो चिकित्सक से संपर्क करें।

Also, Read प्रेगनेंसी में नार्मल डिलीवरी (Normal Delivery Tips in Hindi) चाहती हैं तो इन टिप्स को फॉलो जरुर करें

1 thought on “लैट्रिन की जगह दर्द हो तो क्या करना चाहिए – 5 उपाय”

Leave a Comment