पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है – एमआरआई स्कैन के बारे में सम्पूर्ण जानकारी

Spread the love

पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है – एमआरआई स्कैन के बारे में सम्पूर्ण जानकारी – एमआरआई का फुल फॉर्म मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग होता हैं। जब डॉक्टर आंतरिक रोगों की पहचान नहीं कर पाते हैं तो एमआरआई स्कैन की सलाह देते हैं। इस स्कैन से शरीर के अंदर के रोगों का सही आकलन किया जा सकता हैं। आपके आसपास के लोगों ने m.r.i.जरुर करवाया होगा। चिकित्सा जगत के लिए एमआरआई एक बेहतरीन खोज हैं। इस स्कैन के द्वारा शरीर के सभी अंगों के रोगों का पता आसानी से लगाया जा सकता हैं। आइए इस पोस्ट के माध्यम से विस्तार से जानते हैं की एमआरआई क्या होता है और पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है ?

एमआरआई के बारें में अक्सर लोग सुनते हैं। लेकिन इसकी जानकारी अधिकत्तर लोगों को नहीं होती हैं। कई बार ऐसी स्थिति आती हैं जब शरीर के आंतरिक रोगों का सही से पता नहीं चलता हैं। ऐसे में मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग तकनीक से कंप्यूटर द्वारा शरीर के अंदर की स्थिति की जांच की जाती हैं। नीचे विस्तारपूर्वक बताया गया हैं की पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है और यह वास्तव में कैसे काम करता हैं।

एमआरआई (m.r.i. Scan) क्या होता है

पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है
पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है

मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग एक आधुनिक तकनीक हैं जिसके द्वारा व्यक्ति के सभी अंगों की जांच कर शारीरिक समस्यायों के बारें में पता लगाया जाता हैं। इस तकनीक द्वारा शरीर के आंतरिक अंगों के इमेज निकाले जाते हैं। एमआरआई स्कैन रेडियो तरंगों और मैग्नेटिक फील्ड पर काम करता हैं। एक बड़े आकार का मैग्नेटिक ट्यूब होता हैं जो कंप्यूटर से जुड़ा होता हैं। इसमें समस्या ग्रस्त व्यक्ति को अंदर डाला जाता हैं। स्कैन को करने में दर्द की अनुभूति नहीं होती हैं। इस ट्यूब में लगा चुम्बक बहुत ही शक्तिशाली मैग्नेटिक फील्ड बनाती हैं। स्कैन प्रोसेस को कंप्यूटर पर देखा जाता हैं। स्कैन को करने में 30 मिनट से लेकर 3 घंटे का भी समय लग सकता हैं। अगर पुरे बॉडी को स्कैन किया जा रहा हैं तो लम्बा समय लगता हैं।

एमआरआई मशीन एक मैग्नेटिक फील्ड हैं जो शरीर के प्रोटोन जो चुम्बक की भांति व्यवहार करता हैं को पुन: संरेखित करने का काम करती हैं। जब रेडियों तरंगे अंग या उत्तको को भेजा जाता हैं तो संरेखण प्रभावित होता हैं जिसके परिणामस्वरूप प्रोटोन द्वारा संकेत मिलने शुरू होते हैं। एमआरआई मशीन में लगे सेंसर इसे डिटेक्ट कर लेता हैं। फिर सिग्नल्स के उपयोग से इमेज बनायी जाती हैं। एमआरआई (m.r.i. Scan) की मदद से शरीर के लगभग सभी हिस्से जैसे हार्ट, प्रोस्टेट ग्रंथि, गुर्दे, पेट के अन्य अंग, गर्भाशय, सर आदि की जांच की जाती हैं। अंगों का इमेज निकालकर मरीज की स्थिति के अनुसार इलाज शुरू किया जाता हैं।

यह भी पढ़े गलगुटिकाशोथ का खुद इलाज करने के तरीके – गलगुटिकाशोथ के लक्षण, दवाएं और सर्जरी की सम्पूर्ण जानकारी

एम आर आई कैसे होती है

एम आर आई कैसे होती है
एम आर आई कैसे होती है

दोस्तों, एम आर आई करने से पहले और प्रक्रिया के दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना जरुरी होता हैं। एम आर आई करने के पहले खाने-पीने पर किसी तरह की पाबन्दी नहीं होती हैं। डॉक्टर आपको स्कैन से पहले पानी पीने के लिए कहेंगे। जैसा की मैंने आपको बताया हैं की आपको मैग्नेटिक फील्ड में इंटर करना होता हैं इसलिए गले, हाथ और कान इत्यादि में पहने गए किसी भी तरह के धातु को शरीर से दूर करना पड़ेगा। इसके अलावे अंडर गारमेंट्स न पहनने को कहा जाता हैं।

उसके बाद आपको एम आर आई मशीन के बेड (रिट्रेक्टेबल टेबल) पर लेटना होता हैं। स्वचालित मशीन आपको स्कैनर के अंदर ले जाएगी। उसके बाद शरीर की स्कैनिंग शुरू होती हैं। इस प्रक्रिया में आपको हल्के दर्द की भी अनुभूति नहीं होगी। दुसरे रूम कंप्यूटर पर बैठे रेडियोग्राफर निरंतर स्कैनिंग को देखते रहते हैं। स्कैनिंग के दौरान आपको हिलना डुलना नहीं होता हैं। शरीर के जिस क्षेत्र को खास तौर पर स्कैन करना होता हैं उसे तनिक भी हिलने नहीं देना चाहिए। शरीर के अंगों के आधार पर एम आर आई के लिए 1/4 से 3 घंटे तक समय लग सकता हैं।

यह भी पढ़े फेफड़ा खराब होने पर कितना दिन तक जीवित रह सकता है आदमी जानकर हैरान रह जाएंगे

पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है

अक्सर लोग यह प्रश्न करते हैं की पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है ?। दोस्तों, भारत एक अलग-अलग क्षेत्रों इस स्कैन को कराने का खर्चा भिन्न हो सकता हैं। जी हां, दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों में m.r.i. स्कैन कराने में आपको 15 से 20 हजार तक का खर्चा आता हैं। वही छोटे शहरों की बात करें तो 10 से 12 हजार की कीमत में पूरे शरीर की m.r.i. हो जाती हैं।

यह भी पढ़े प्रेगनेंसी के 8 महीने में क्या क्या सावधानी रखनी चाहिए? – छोटी गलती भी कर सकती हैं बड़ा नुकसान

एम आर आई के नुकसान

एम आर आई स्कैन कराने से अब तक किसी भी नुकसान की जानकारी नहीं मिली हैं। हालांकि अगर कोई व्यक्ति स्कैन मशीन के अंदर किसी धातु वाले चीज के साथ जाएं तो इससे उस व्यक्ति मैग्नेटिक फील्ड के कारण को चोट लगने की संभावना रहती हैं। कभी कभी साइडईफेफ्क्ट्स के रूप में कुछ लोगों को हल्का चक्कर जैसा फील होता हैं। दरसल यह मैगनेट के कारण होता हैं। इस जांच में लम्बे समय तक एक बंद ट्यूब के अंदर रहना पड़ता हैं जिसकी वजह से उन लोगों को परेशानी हो सकती हैं किसी ऐसी मानसिक बीमारी से जूझ रहे हैं जिसमें व्यक्ति अकेले में बेहद डर लगता हैं। इसके अलावे उन व्यक्तियों के लिए भी यह स्कैन अच्छा नहीं माना जाता हैं जो शरीर को स्थिर नहीं रख सकते हैं।

यह भी पढ़े शरीर में चुनचुनाहट की दवा से मिनटों में समस्या से मिलेगी राहत – घरेलू उपाय भी पढ़ें

निष्कर्ष – पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है

इस पोस्ट में मैंने आपको बताया हैं की पूरे शरीर की m.r.i. कितने रुपए में होती है – एमआरआई स्कैन के बारे में सम्पूर्ण जानकारी विस्तारपूर्वक ध्यान से पढ़ें। m.r.i.में बहुत ज्यादा खर्च आता हैं। एक मिडिल क्लास फॅमिली के लिए इतना खर्चा करना थोड़ा मुश्किल होता हैं। हालांकि कुछ विशेष परिस्थितियों में m.r.i.करवाने की आवश्यकता होती हैं। इसलिए डॉक्टर इस स्कैन को कराने की सलाह दे सकते हैं।

मुझे आशा हैं की आपको आज की यह पोस्ट बेहद अच्छी और उपयोगी ली होगी। इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा उन लोगों तक शेयर करें जिन्हें पूरे शरीर की m.r.i.करवानी हैं।

यह भी पढ़े शुगर को जड़ से खत्म करने के लिए क्या खाना चाहिए? – लक्षण और घरेलु उपाय

Leave a Comment