अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए – अशोकारिष्ट सिरप फॉर पीरियड्स

Spread the love

अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए – अशोकारिष्ट सिरप फॉर पीरियड्स – आपने कई महिलाओं को अशोकारिष्ट सिरप का सेवन करते देखा होगा। यह सिरप महिलाओं की कई समस्यायों में लाभकारी हैं। महिलाओं को जब पीरियड से संबंधित किसी तरह की समस्या होती हैं तो ऐसे में अशोकारिष्ट पीने की सलाह दी जाती हैं। यह सिरप कई आयुर्वेदिक औषधियों से मिलकर बना हैं। इसमें आंवला, बहेड़ा, जीरा, हरड, नागरमोथा जैसे 15 तरह के जड़ीबूटियां हैं। इसमें आम की गुठली और अशोक पेड़ की जड़ों को भी सम्मिलित किया गया हैं। कुल मिलाकर कहे तो यह उन सभी जरुरी पोषक तत्वों से भरपूर जिससे महिलाओं की अनेक समस्यायों का उपचार किया जा सकता हैं। आइए आपको विस्तार से बताते हैं कि अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए और अशोकारिष्ट सिरप पीने के फायदे क्या-क्या हैं।

अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए
अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए

जैसा की मैंने आपको बताया हैं की इसमें अशोक की छाल भी हैं जो पीरियड में अत्यधिक ब्लीडिंग की समस्या को कम करता हैं। अशोकारिष्ट के इस्तेमाल से पहले इसके बारें में सम्पूर्ण जानकारी का होना बेहद जरुरी हैं। नीचे विस्तारपूर्वक बताया गया हैं की अशोकारिष्ट सिरप कैसे पीना चाहिए और अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए ताकि किसी तरह की समस्या न हो।

अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए

अशोकारिष्ट का सेवन पीरियड में ज्यादा ब्लीडिंग , अनियमित पीरियड, इम्युनिटी को बूस्ट करने, हड्डियों को मजबूत करने आदि में किया जाता हैं। इसका सेवन दिन में 2 बार किया जाता हैं। हालाँकि आप डॉक्टर के बताएं अनुसार ही इसका सेवन करें। यह सिरप पीरियड से जुडी समस्या में बेहद लाभदायक हैं। अशोकारिष्ट के नुकसान बेहद कम ही देखने को मिलते हैं हालाँकि किसी भी चीज का आवश्यकता से ज्यादा सेवन नुकसान पहुंचा सकता हैं। इस सिरप का सेवन दिन भर में 20 ml करना पर्याप्त हैं।

अर्थात आप 10-10ml सुबह शाम खाने के बाद या खाने के पहले इसका सेवन कर सकते हैं। अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए यह आपकी समस्या पर डिपेंड करता हैं। डॉक्टर्स पहले 1 बोतल अशोकारिष्ट लेने की सलाह देते हैं। अगर समस्या में फायदा दिखे तो आप 2 बोतल पी सकती हैं। तीसरा बोतल पीने से पहले किसी अच्छे चिकित्सक की सलाह जरुर लें।

Also, Read पीरियड आने के संकेत – पीरियड आने से पहले ब्रेस्ट में दर्द क्यों होता है

अशोकारिष्ट सिरप कैसे पीना चाहिए

अशोकारिष्ट सिरप कैसे पीना चाहिए
अशोकारिष्ट सिरप कैसे पीना चाहिए

इस सिरप को डॉक्टर द्वारा बताएं गए तरीके से पीना चाहिए। डॉक्टर दिन में 2 ही बार पीने की सलाह देते हैं। आप इस सिरप को खाली पेट भी सकती हैं। यह किसी तरह का नुकसान नहीं करेगा। खाने के बाद भी इस सिरप का सेवन किया जा सकता हैं। एक बार में 10 ml निकालकर किसी छोटे पात्र में रखें और उसमें 10 ml पानी मिलाएं। अब यह मिश्रण सेवन के लिए तैयार हैं।

अशोकारिष्ट सिरप पीने के फायदे

अशोकारिष्ट सिरप महिलाओं की समस्या के निवारण के लिए जाना जाता हैं। पीरियड में दर्द, पीरियड में ब्लीडिंग, शरीर में कमजोरी आदि की समस्या में तुरंत राहत देता हैं। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम हैं जो हड्डियों को मजबूत करता हैं। महिलाओं में अनिद्रा और थकान को दूर कर स्टैमिना को इनक्रीज करता हैं। महिलाओं में पीसीओएस के कारण उत्पन्न होने वाली समस्या जैसे अधिक रक्तस्त्राव और भूख का कम लगना जैसी समस्या दूर होती हैं। इसके अलावे यह स्किन के लिए फायदेमंद हैं। दरसल पीसीओएस के कारण स्किन से जुडी समस्याएं अक्सर देखी जाती हैं। इसके इस्तेमाल से स्किन का रंग सुधरता हैं और कील मुहांसे में कमी आती हैं। गर्भाशय को स्वस्थ रखता हैं।

Also, Read क्या पीरियड के चौथे दिन पूजा कर सकते हैं / क्या पीरियड के तीसरे दिन पूजा कर सकते हैं

अशोकारिष्ट के नुकसान – अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए

अशोकारिष्ट के अनेकों फायदे हैं लेकिन कुछ स्थितियों में यह नुकसान भी कर सकता हैं। अगर आपको अशोकारिष्ट से एलर्जी संबंधी समस्या हो रही हैं तो इसके सेवन की सलाह नहीं दी जाती हैं। दरसल इसके अधिक सेवन से कुछ महिलाओं को स्किन से जुड़ी समस्याएं भी हो जाती हैं। बच्चों को इसके सेवन की सलाह नहीं दी जाती हैं। अगर आप गर्भ से हैं तो डॉक्टर से पूछकर ही इसका सेवन करें। इसके सेवन से नुकसान की संभावना कम ही होती हैं लेकिन कुछ दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।

कुछ महिलाओं को इस दवा के सेवन से ब्लड प्रेशर हाई हो सकता हैं। कभी-कभी पीरियड भी मिस हो सकता हैं। इन सबके अलावे उल्टी, पेट दर्द जैसे दुष्प्रभाव भी देखें जा सकते हैं। इसलिए इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह आवश्यक हैं। इसका अधिक सेवन भी आपके लिए नुकसान दे सकता हैं। अत अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए यह ध्यान में रखें।

Also, Read पीरियड 2 दिन में कैसे खत्म करें? – पीरियड को जल्दी खत्म करने के 5 असरदार उपाय

पीरियड में अशोकारिष्ट पीना चाहिए – अशोकारिष्ट सिरप फॉर पीरियड्स

जी हाँ, अशोकारिष्ट पीरियड सबंधी समस्यायों में सबसे कारगर औषधि हैं। इस आयुर्वेदिक औषधि के सेवन से पीरियड में अनियमितता, पीरियड के कारण होने वाले दर्द, पीरियड में होने वाले अत्यधिक खून स्त्राव आदि की समस्या से छुटकारा मिलता हैं। अगर पीरियड में पेट में एंठन की समस्या हैं तो इसका सेवन जरुर करें। यह तीव्र पीड़ा की समस्या को भी जल्द दूर करता हैं। अगर आपका पीरियड बार-बार अनियमित होता हैं अर्थात पीरियड साइकिल हर महीने बदलते रहता हैं तो ऐसे में इसका सेवन आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता हैं। किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के बाद इसका सेवन आप शुरू कर सकती हैं।

Also, Read पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए taki pregnant na ho जाने विस्तार से

गर्भ धारण करने के लिए अशोकारिष्ट

गर्भ धारण करने के लिए अशोकारिष्ट बेहद उपयोगी हैं। यह पीरियड को सही कर गर्भधारण करने की क्षमता को बढाता हैं। परन्तु ध्यान रहे की अगर आप गर्भवती हैं तो इस स्थिति में इसका सेवन खतरनाक हो सकता हैं। यह आपके शरीर में हार्मोनल असंतुलन का कारण बन सकती हैं जिसकी वजह से आपको अनेक तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं।

Also, Read गर्भावस्था में सपने में कद्दू देखना / सपने में हरा कद्दू देखना

निष्कर्ष

इस पोस्ट में मैंने आपको बताया हैं की अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिएअशोकारिष्ट सिरप फॉर पीरियड्स। मुझे उम्मीद हैं की आपको आज की यह जानकारी बेहद अच्छी लगी होगी। मेनोरेजिया और पीसीओडी जैसी समस्या में यह कारगर औषधि हैं। इस औषधि का इस्तेमाल बच्चों और गर्भवती महिलाओं को नहीं करनी चाहिए। बवासीर जैसी समस्या में पुरुष भी इस औषधि का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह शीतल प्रकृति का होता हैं। इसके इस्तेमाल वजन को संतुलित करने में भी किया जाता हैं। 1 महीने लगातार सेवन से फायदा दिखना शुरू हो जाता हैं।

मुझे आशा हैं की आपको आज की यह जानकारी अशोकारिष्ट कितना बोतल पीना चाहिए – अशोकारिष्ट सिरप फॉर पीरियड्स , बेहद अच्छी लगी होगी। इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरुर से जरुर शेयर करें। इस ब्लॉग पर आपको महिलाओं के हेल्थ से जरूरी हर जानकारी प्रोवाइड की जाती हैं। अत: इस ब्लॉग को फॉलो जरुर करें।

Also, Read दांतों में मसाला भरने के नुकसान और फायदे की सम्पूर्ण जानकारी

Leave a Comment