वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय – मिनटों में समस्या का होगा हल

Spread the love

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय – मिनटों में समस्या का होगा हल – विवाह के पश्चात अक्सर पति-पत्नी में कलह जैसी स्थितियां पैदा होती हैं। जब घर में एक नए सदस्य का आगमन होता हैं तो एक दुसरे को समझने थोड़ा समय तो लगता ही हैं। कई बार पर्याप्त समय देने के बाद भी स्थितियों में कोई सुधार नहीं होता हैं। ऐसे में व्यक्ति को समझदारी से काम लेना चाहिए। आपकी एक गलती स्थिति को और भी बिगाड़ सकती हैं।

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय - मिनटों में समस्या का होगा हल
वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय – मिनटों में समस्या का होगा हल

जब वैवाहिक जीवन में कलह होता हैं तो पति-पत्नी इससे प्रभावित तो होते ही हैं साथ ही इससे घर के अन्य सदस्यों खासकर बच्चों पर इसका बेहद बुरा असर पड़ता हैं। बच्चे बड़ों से ही सीखते हैं ऐसे में बच्चे गलत माहौल के कारण निश्चित तौर पर प्रभावित होंगे। पति-पत्नी में कलह का होना आपको मानसिक रूप से बीमार बना सकता हैं। इसलिए आइए आपको वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के कुछ बेहतरीन उपाय बताते हैं।

शादी के बाद का जीवन बैचलर लाइफ से बिल्कुल अलग होता हैं। शादी के बाद कई तरह की अन्य जिम्मेदारियों का निर्वहन करना होता हैं। घर के खर्चों में भी बढ़ोतरी होती हैं। वैवाहिक जीवन में कलह के कई कारण हो सकते हैं। जब पति-पत्नी एक दुसरे को समय नहीं देते हैं या अहम भाव के कारण एक दुसरे के बातों को या सुझाव को अहमियत नहीं देते हैं तो कलह का होना निश्चित हैं। वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय जानने से पहले पति-पत्नी में कलह के मुख्य कारणों को जानना जरुरी हैं। कारण जानने के पश्चात आप आसानी से मौजूदा परिस्थितियों से निकल सकते हैं।

वैवाहिक जीवन में कलह के कारण – पति-पत्नी में कलह के कारण

वैवाहिक जीवन में कलह के कारण - पति-पत्नी में कलह के कारण
वैवाहिक जीवन में कलह के कारण – पति-पत्नी में कलह के कारण

पति-पत्नी में कलह अर्थात बिना वजह के लड़ाई झगड़े और छोटी-छोटी बातों का बतंगड़ बनाकर एक दुसरे उलझ पड़ना इशारा करता हैं दोनों में प्रेम नहीं हैं। जहां प्रेम होता हैं वहा लड़ाई झगड़े भी होते हैं परन्तु कलह कभी नहीं होता हैं। पति-पत्नी के बीच रूठना-मानना चलता ही रहता हैं। जब घर में कलह होता हैं तो व्यक्ति हर समय टेंशन में रहता हैं। टेंशन का असर तन, मन और अर्थ पर भी पड़ता हैं। वैवाहिक जीवन में हो रहे रोज-रोज का कलह तलाक का कारण भी बन सकती हैं। इसलिए समय रहते इसका उपाय करना आवश्यक हैं। वैवाहिक जीवन में कलह के मुख्य कारण निम्नलिखित हैं।

  • एक दुसरे से प्रेम न होना
  • एक दुसरे पर शक करते रहना
  • खुद की सोच साथी पर थोपने का प्रयास करना
  • एक दुसरे की बातों को काटना
  • एक दुसरे को समझने के लिए पर्याप्त समय न देना
  • घर में आर्थिक समस्यायों का होना
  • बहु और सास के बीच हमेशा अनबन होते रहना
  • मुश्किल परिस्थिति में एक दुसरे का साथ न देना
  • एक दुसरे के प्रति आदर और सम्मान की भावना न होना
  • क्रोध पर काबू न कर पाना
  • खुद को जीवनसाथी से बेहतर समझना
  • किसी अन्य पुरुष/स्त्री के साथ संबंध का होना
  • गलत कार्य या गलत संगत में पड़ना
  • ससुराल से दूर रहने की पत्नी की जिद्द

दोस्तों, वैवाहिक जीवन में कलह के यही मुख्य कारण अक्सर देखें जाते हैं। इसके अलावे भी कई कारण हो सकते हैं। पति-पत्नी में कलह होने पर समझदारी के साथ स्थिति को सुधारने का प्रयत्न करना चाहिए। आइए जानते हैं की वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय क्या हैं।

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करना हैं तो पति-पत्नी दोनों ही को प्रयत्न करना चाहिए। अगर दोनों में से कोई एक भी समझदार हैं तो स्थिति को नियंत्रित किया जा सकता हैं। वैवाहिक जीवन में तालमेल का होना जरुरी हैं। अगर पति-पत्नी के बीच किसी चीज को लेकर मतभेद हैं या विचारों में अंतर हैं तो भी एक दुसरे के प्रति आदर, प्रेम और समर्पण की भावना परिस्थिति को बिगड़ने से रोक देती हैं। यह आवश्यक नहीं की हर किसी की सोच आपसे मिलें। इसलिए एक दुसरे के बातों को अच्छी तरह सुने।

अगर जीवनसाथी की बातें आपको गलत लगती हैं तो उसे काटने या गुस्सा करने के बजाय उचित समय की प्रतीक्षा करें। एक दुसरे की बातों को ध्यान से सुनें और समझने का प्रयत्न करें। जल्दबाजी में किया गया कोई भी कार्य अक्सर नुकसान ही देता हैं। वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के निम्नलिखित उपायों पर जरुर ध्यान दें।

1. एक दुसरे को समय दें

समय का अभाव वैवाहिक जीवन को खराब कर सकता हैं। एक दुसरे के लिए पर्याप्त समय का न होना पति-पत्नी के बीच की दूरियों को बढ़ा देता हैं। कुछ लोग दिन भर ऑफिस में रहते हैं और ऑफिस से आने के बाद दोस्तों के साथ घुमने निकल पड़ते हैं। अपने मनोरंजन के लिए पत्नी को भूल जाते हैं। घर में भी कई तरह की समस्याएं होती हैं। पत्नी सिर्फ पति के साथ ही उन समस्यायों को शेयर कर सकती हैं। ऐसे में पति का पत्नी पर ध्यान न देना कलह की मुख्य वजह हो सकती हैं। पत्नी को ऐसा फील हो सकता हैं की पति उसकी बिल्कुल परवाह नहीं करता हैं। पत्नी धीरे-धीरे चिड़चिड़ापन जैसी समस्या से ग्रस्त हो जाती हैं। ऐसे में पति के देर रात लौटने पर पत्नी गुस्से में लड़ाई-झगड़े भी कर लेती हैं। इस स्थिति को सुधारने का एक ही उपाय हैं। पत्नी को समय दें।

पत्नी कोई गुलाम नहीं हैं। उसे भी घुमने और अपने पसंद की चीजें करने का मन होता हैं। इसलिए सप्ताह में कम से कम एक बार सिनेमा, रेस्टोरेंट और पार्क जैसी जगहों पर एक साथ समय स्पेंड करें। यकीन मनियें इससे आप दोनों के रिश्तों को मजबूती मिलेगी। पत्नी को ऐसा लगेगा की आप उसके लिए सबसे बेस्ट हैं। ऐसे में पत्नी कभी भी आपसे झगड़ा नहीं करेगी। आपकी हर बात मानेगी। एक दुसरे से मन की सारी बातें शेयर करें। इससे आप दोनों का मन हल्का लगेगा। बातचीत करने के लिए शांत माहौल की तलाश करें। बातचीत के दौरान गुस्सा कभी न करें। स्थिति को समझे और दोनों मिलकर उसका समाधान निकालें।

यह भी पढ़ें लड़कों के प्यार के इशारे समझना – लड़के को जब होता हैं सच्चा प्यार तो देते हैं ऐसे इशारे

2. एक दुसरे की सलाह लें

कई बार वैवाहिक जीवन में कलह कारण इग्नोर करना भी होता हैं। पति-पत्नी का रिश्ता बराबर का होता हैं। चाहे ख़ुशी का पल हो या दुःख का एक दुसरे की सहायता और सलाह जरुर लें। जब आप जीवनसाथी को बिना बताएं कोई बेहद जरुरी कार्य करते हैं तो ऐसे में जीवनसाथी के मन में हर वक्त एक ही सवाल चलता रहता हैं की क्या इस घर में मेरी कोई वैल्यू नहीं हैं?। कई बार ऐसा भी होता हैं की पति घर के अन्य सदस्यों से हर चीज शेयर करता हैं लेकिन पत्नी से नहीं करता हैं। ऐसे में लड़ाई झगड़े तो होने ही हैं।

अगर आप कोई नई चीज करने जा रहे हैं तो जीवनसाथी की राय जरुरी हैं। चाहे जीवनसाथी को उस चीज के बारें में जानकारी हो या न हो उससे उसकी राय जरुर पूछे। इससे जीवनसाथी को लगेगा की उनके जीवन में मेरी खास जगह हैं। यह आप दोनों के बीच के प्रेम को बढ़ाएगा। जहां प्रेम होता हैं वहां कलह का तो कोई सवाल ही नहीं हैं। वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के यह उपाय निश्चित तौर पर आपकी स्थिति में सुधार लाएगा।

यह भी पढ़ें कैसे पता करें कि महिला दूसरे के संपर्क में हैं – गलत पत्नी के लक्षण

3. आर्थिक स्थिति में सुधार करें

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय में आर्थिक स्थिति में सुधार करना भी शामिल हैं। खराब आर्थिक स्थिति घर में पति-पत्नी के रिश्ते में दूरियां पैदा कर सकती हैं। वैवाहिक जीवन में कलह के मुख्य कारणों में खराब आर्थिक स्थिति भी शामिल हैं। जब घर की आर्थिक स्थिति डामाडोल रहती हैं तो छोटी-छोटी बातों पर घर में लड़ाई झगड़े शुरू हो जाते हैं। अगर घर में लड़ाई झगड़े का कारण खराब आर्थिक स्थिति हैं तो जल्दी से जल्दी इस समस्या को दूर करने का प्रयत्न करें। इस समस्या को दूर करने के लिए आप एक्स्ट्रा वर्क भी कर सकते हैं। पति-पत्नी दोनों मिलकर जॉब करें तो शायद आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें सच्ची पत्नी की पहचान क्या हैं – 5 ऐसे गुण जो हर पत्नी को बनाता हैं विशेष

4. वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय हैं – गलती स्वीकार करना

पति-पत्नी के बीच अहम का टकराव कभी नहीं होना चाहिए। अगर पति-पत्नी में से किसी एक से कोई गलती हो जाती हैं तो गलती को स्वीकार करें। जीवनसाथी के आगे झुकना बुरी बात नहीं हैं। अगर किसी के झुकने से कलह दूर होता हैं तो इससे बढ़िया बात क्या हो सकती हैं। एक दुसरे से लड़ने के बजाय शांति से समस्या का हल निकालना चाहिए। कभी-कभी क्रोध मनुष्य की चेतना को हर लेता हैं। क्रोध मनुष्य की सोचने समझने की शक्ति को क्षीण कर देता हैं। क्रोध वश कभी-कभी ऐसी गलतियां हो जाती हैं जिसके बाद लोग पछताते हैं। गलती होने पर जीवनसाथी से वादा करें की ऐसी गलती फिर दुबारा कभी नहीं होगी।

यह भी पढ़ें पत्नी को काबू में कैसे करें – 5 तरीके – मिनटों में पत्नी होगी काबू में

5. हर परिस्थिति में एक दुसरे का साथ दें

जीवन में सुख दुःख तो आते ही रहते हैं। लाइफपार्टनर अगर किसी मुसीबत में हैं या किसी बीमारी ग्रसित हैं तो उसी देखभाल करें। यह आपके वैवाहिक सम्बंधों को मजबूती देगा। एक दुसरे के जरूरतों का ख्याल रखें। जीवनसाथी के बताने इ पहले ही उनकी जरूरत की चीजें उन्हें खरीदकर दें। यह आपके बीच के प्रेम को और गाढ़ा करेगा। सहानुभूति और सम्मान बनायें रखें। लाइफ पार्टनर के खास दिनों को किसी खास जगह जाकर सेलिब्रेट करें। समय मिलें तो घर के कामों में भी एक दुसरे की मदद करें।

यह भी पढ़ें दुष्ट पत्नी की पहचान और गलत पत्नी के लक्षण – मिनटों में करें पहचान

6. गलत संगती से दूर रहें और जीवनसाथी से दोस्ती करें

गलत संगती आपके पैसे, समय और मान सम्मान को क्षति पहुंचाती हैं। गलत दोस्त हमेशा गलत करने की सलाह देते हैं। गलत संगती परायी स्त्री/पुरुषों से नजदीकियां बढ़ाने जैसी स्थिति का कारण बन सकती हैं। यह आपके वैवाहिक जीवन में कलह का कारण बन सकती हैं। जीवनसाथी से दोस्तीं करें। जीवनसाथी कभी आपका अहित नहीं चाहेगा। एक अच्छा और सच्चा दोस्त हर परिस्थिति में आपका शुभ ही सोचता हैं। वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के यह सभी उपाय आपकी हेल्प जरुर करेगा।

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष – वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय

वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय बेहद कारगर हैं। ऊपर बताएं गए सभी उपाय आपकी समस्या को हल करने में मदद करेगी। पति-पत्नी के बीच का कलह प्रेम को बढ़ाकर दूर किया जा सकता हैं। एक दुसरे पर विश्वास रखें और एक दुसरे का सम्मान की भावना रखें। दोनों के बीच तालमेल का होना भी बेहद जरुरी हैं। कभी भी अहम और शक जैसी नकारात्मक चीजों को जीवन में स्थान न दें। एक दुसरे की खूब तारीफ करें। एक दुसरे की बातों को दिमाग के बजाय दिल से सुनने का प्रयत्न करें। दुःख में एक दुसरे का साथ दें। किसी अनजान व्यक्ति या घर के किसी सदस्य के सामने जीवनसाथी को अपमानित करें।

मुझे आशा है की आपको आज की इस पोस्ट ” वैवाहिक जीवन में कलह को दूर करने के उपाय – मिनटों में समस्या का होगा हल ” में बतायी गयी जानकारी बेहद अच्छी लगी होगी। इस जानकारी को सोशल मीडिया पर जरुर से जरुर शेयर करें।

यह भी पढ़ें जो पत्नी अपने पति को बहुत सताती है – मिनटों में कण्ट्रोल करने के उपाय

Leave a Comment