उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं – ज्यादा सपने आने का कारण

Spread the love

उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैंज्यादा सपने आने का कारण – अक्सर कई लोगों को उल्टे सीधे सपने परेशान करते रहते हैं। सपने आने के कारण रातों की नींद ख़राब हो जाती हैं। व्यक्ति डर और सहम सा जाता हैं। कभी-कभार सपने का आना बेहद आम बात हैं। लेकिन अगर आपको रोज रोज सपने आते हैं तो ऐसे में आप टेंशन में आ जाते हैं। बुरे सपने आने के बाद जल्दी नींद भी नहीं आती हैं। कुछ लोग तो इतने उल्टे सीधे सपने आने की समस्या से इतने डर जाते हैं की वे सोना भी नहीं चाहते हैं। उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं यह जानने से पहले सपने क्यों आते हैं और सपने आने का वैज्ञानिक कारण क्या हैं यह जान लेते हैं ताकि आपको समझने में आसानी हो।

उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं
उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं

दोस्तों, हर इंसान सपने देखता हैं। किसी इंसान को सामान्य सपने दिखाई देते हैं तो कुछ को डरावने सपने। जब सपने में व्यक्ति कुछ उल्टा सीधा देख लेता हैं तो इससे व्यक्ति का मूड ख़राब हो जाता हैं। यहाँ तक की किसी भी काम में मन नहीं लगता हैं और हर समय उसी सपने के बारें में सोचता रहता हैं। आइए विस्तार से जानते हैं की उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं और सपने आने का वैज्ञानिक कारण क्या हैं।

सपने क्यों आते हैं – सपने आने का वैज्ञानिक कारण

सपने का आना वास्तव में कोई समस्या नहीं हैं। ज्यादात्तर लोग सपने देखते हैं और उठने के बाद पूरी तरह भूल जाते हैं। सपने आने का वैज्ञानिक कारण रैपिड आई मूवमेंट के दौरान दिमाग का कार्य करते रहना हैं। दरसल इस दौरान हमारा दिमाग कार्य कर रहा होता हैं। यह मूवमेंट सोने के बाद हर डेढ़ घंटे पर होता हैं। हमारे सपने का कनेक्शन वास्तव में कुछ घटनाओं और दिन भर के क्रियाकलापों से जुड़े होते हैं। सामान्यत: देखा जाता हैं की सुबह आँख खुलते ही सपने धुंधले पड़ जाते हैं। हम देखें गए सपने को ठीक से याद भी नहीं कर पाते हैं। परन्तु कुछ मामलों में सपने जागने के बाद भी याद रह जाते हैं। दरसल इसका कारण मानसिक रूप से अस्वस्थ होना हैं। इनसोम्निया में लोग देखें हुए सपने को भूल नहीं पाते हैं।

Also, Read नींद नहीं आती तो करें ये बेहतरीन उपाय

दिन में सपने क्यों आते हैं

दिन में सपने क्यों आते हैं
दिन में सपने क्यों आते हैं

कुछ लोगों को दिन में भी सोने की आदत होती हैं। जो लोग रात को नींद पूरी नहीं कर पाते हैं वे दिन में अक्सर सो जाते हैं। थकान, सर दर्द, मानसिक टेंशन और नींद पूरी नहीं होने के कारण ही लोग दिन के समय सोते हैं। दिन में सपने आने का सबसे बड़ा कारण मानसिक टेंशन, चिंता और रात को पूरी नींद न लेना ही हैं।

उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं

अगर आप भी उल्टे सीधे सपने जैसे डरवाने, मरने, मारने जैसे सपने से परेशान हैं तो इसके निम्नलिखित कारण हो सकते हैं:-

1. मानसिक बीमारी या मानसिक रूप से अस्वस्थ होने के कारण

किसी मानसिक बीमारी जैसे बाइपोलर डिजीज, सिजोफ्रेनिया आदि जैसे रोगों में उल्टे सीधे सपने आना आम हैं। इसके अलावे यह सामान्य चिंता, सामान्य से ज्यादा सोचते रहने, आपके द्वारा कुछ गलत होने आदि कारणों से भी उल्टे सीधे सपने आ सकते हैं। अगर आप भुत प्रेत की फ़िल्में अधिक देखते हैं तो यह भी उल्टे सीधे सपने का कारण हो सकता हैं। दरसल हम दिन में जो भी एक्टिविटी करते हैं या जो सोचते हैं वह रात के सपने में कुछ अलग तरीके से दिखाई दे सकते हैं।

Also, Read रात को नींद में कभी-कभी ऐसा क्यों लगता है कि किसी ने आपको जकड़ लिया है

2. अगर आपके साथ कभी कुछ गलत हुआ हैं तो भी उल्टे सीधे सपने आते हैं

कुछ लोगों के साथ ऐसी भूतकाल में कुछ ऐसी चीजें हुई होती हैं जिसे भुला पाना बेहद मुश्किल होता हैं। ऐसे में लोग उस बारें में दिन रात सोचते रहते हैं। जब एक ही चीज बार-बार दिमाग में घुमती रहती हैं तो यह डरावने सपने के रूप में परेशान करता हैं।

3. नींद की कमी और सोते वक्त डरावनी फ़िल्में देखना

कुछ लोगों की आदत होती हैं की बीना फिल्म देखें उन्हें नींद नहीं आती हैं। अगर आप भी रात को सोने से पहले डरावनी फ़िल्में देखते हैं तो हमारा दिमाग रात में जब भी सक्रीय होता हैं यही सब चीजें याद आती हैं। ऐसे में डरवाने सपने का आना आम बात हैं। अत: कम से कम ८ घंटे की नींद ले। आप रात को 10 बजे सोने की आदत डालें और सुबह 6 बजें उठें। सोने से पहले डरावनी फ़िल्में या टीवी सीरियल न देखें।

Also, Read नींद ना आने के कारण और घरेलू उपाय

4. इंसोमनिया और अधिक नशा करने के कारण

यह एक तरह का स्लीप डिसऑर्डर हैं। इस समस्या के कारण लोगों को नींद ठीक से नहीं आती हैं। रात को बार-बार नींद खुल जाती हैं। ऐसे में दिमाग कार्य करते रहता हैं। इस समस्या के कारण भी रात के समय उल्टे सीधे सपने आते हैं। जो लोग अधिक नशा करते हैं उनके दिमाग में रात भर हलचल होती रहती हैं। कुछ लोगों में धुम्रपान की लत को छोड़ने वाली दवा भी सपने आने का कारण बनता हैं।

Also, Read 1 मिनट में नींद आने का तरीका

5. प्रेगनेंसी के दौरान

जी हाँ, प्रेगनेंसी में एक महिला को कई तरह की समस्याएं होती हैं। शरीर में लगातार हो रहे हार्मोनल चेंजेज की वजह से भी बुरे और डरवाने सपने आते हैं। दरसल प्रेगनेंसी के दौरान कुछ महिलाएं बच्चे की डिलीवरी को लेकर अति चिंतित हो जाती हैं। इसके अलावे होरमोंस में बदलाव की वजह से चिंता, अवसाद की स्थिति आम हैं। रात को ठीक से नहीं सो पाने की वजह से दिमाग सक्रीय अवस्था में रहता हैं ऐसे में सपने आना आम हैं।

Also, Read प्रेगनेंसी के 8 महीने में क्या क्या सावधानी रखनी चाहिए? – छोटी गलती भी कर सकती हैं बड़ा नुकसान

रोज रोज सपने क्यों आते हैं – ज्यादा सपने आने का कारण

अगर आपको रोज-रोज सपने आते हैं तो यह आपकी खराब लाइफस्टाइल, सदमा, एक्सीडेंट, चिंता, मानसिक बीमारी, तनाव, नींद पूरी न करने ज्यादा सोचते रहने आदि करणों से होता हैं।

अगर आपको रोज सपने आते हैं या ज्यादा सपने आते हैं तो सोने की अवधि को 8 घंटे करें। रात को सोने से पहले कुछ भी खाना नहीं खाएं। बेड पर जाने से 2 घंटे पहले भोजन कर लें। साथ ही नशीले पदार्थों के सेवन से बचें। सुबह उठकर ध्यान लगायें और व्यायाम करें। मानसिक बीमारी की स्थति में चिकित्सक से सलाह जरुर लें।

Also, Read सीने में घबराहट होना, डर लगना या शरीर में बेचैनी

निष्कर्ष

उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैंज्यादा सपने आने का कारण क्या हैं इसकी पूरी जानकरी इस पोस्ट में दी गयी हैं। मुझे उम्मीद हैं की यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। अपने लाइफस्टाइल में बदलाव कर भी इस स्थिति से छुटकारा पाया जा कसता हैं। मानसिक रोग होने पर जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

मुझे आशा हैं की यह पोस्ट उल्टे सीधे सपने क्यों आते हैं – ज्यादा सपने आने का कारण आपको पसंद आया होगा। इस पोस्ट को शेयर जरुर करें।

Also, Read डर को भगाने का तरीका – डर को भगाने के लिए 5 टिप्स