गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है जाने

Spread the love

गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है जाने – दोस्तों, क्या आपको भी ऐसा महूसस होता हैं की गले में कुछ अटका हुआ हैं। अगर हाँ तो इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें। यह समस्या अक्सर कई लोगों को होती हैं। गले में खरास या अटका लगना मुख्यत: खांसी-सर्दी के कारण होता हैं। परन्तु अगर गले में कुछ अटका सा लगना और बार-बार डकार आना जैसी समस्या एक साथ आ रही हैं तो इसके अन्य कई कारण हो सकते हैं। इस आर्टिकल के जरिए मैं आपको इस समस्या का इलाज या घरेलू उपाय बताउंगी जिसकी मदद से तुरंत आराम मिलेगा। आइये सबसे पहले जानते हैं की बार-बार डकार आना और गले में कुछ अटका सा लगना किन कारणों से होता हैं।

गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है जाने
गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है जाने

दोस्तों, जब किसी व्यक्ति को यह समस्या होती हैं तो खाने-पीने में दर्द का अनुभव भी हो सकता हैं। ऐसी समस्या होने पर कुछ भी निगलने में परेशानी होती हैं। यह समस्या गलत खानपान और कुछ दवाओं के साइडइफेक्ट्स के चलते भी हो सकती हैं। यह समस्या को इनटी रोग और डिसपैगिया जैसे रोगों के कारण होती हैं। आइये विस्तार से जानते हैं की गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना किन कारणों से होता हैं और इसका इलाज क्या हैं।

गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना – ज्यादा डकार आने का कारण

कभी-कभी डकार आना बिल्कुल सामान्य हैं। परन्तु अगर आपको बार-बार डकार आता हैं और गले में फंसा हुआ महूसस होता हैं तो यह कुछ बीमारियों के लक्षण हो सकते हैं। नीचे कुछ महत्वपूर्ण कारण बताएं गए जिसकी वजह से यह समस्या होती हैं।

  • ख़राब खान पान या अत्याधिक मसालेदार चीजों के सेवन करने से गले में जलन या अटका हुआ महसूस होता हैं
  • उल्टे-सीधे भोजन और ज्यादा जंक फ़ूड के सेवन से पेट में गैस बनना बेहद आम बात हैं। ऐसे में डकार की समस्या का होना आम बात हैं।
  • ख़राब पाचन तन्त्र या कब्ज की समस्या के चलते भी गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना संभव हैं।
  • गले का टांसिल बढ़ने और गले में गांठ होने पर अटका हुआ सा लगता हैं।
  • ज्यादा सर्दी, कफ और लगातार खांसी होने पर गले में सुजन हो सकती हैं जिसकी वजह से भी यह समस्या होती हैं
  • डिसपैगिया होने पर गले में अटका सा लगता हैं और काफी दर्द भी होता हैं

गले में बार बार डकार क्यों आती है? यह तो आप जान चुके हैं। आइये अब आपको बताते हैं की गैस और डकार का इलाज क्या हैं और गले में अटका हुआ महसूस होने पर क्या करना चाहिए।

यह भी पढ़ें पैर के पंजे में सूजन और दर्द के कारण और प्रभावकारी घरेलु इलाज

बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है

कुछ खाने के बाद उल्टी जैसा लगना और बार-बार डकार आना एसिड रिफ्लक्स, लीवर या गैस की समस्या के कारण हो सकती हैं। ख़राब पाचन तंत्र इस समस्या का मुख्य कारण हैं। अक्सर लोग बीना चबाएं या तेजी से खाना खाते हैं। ऐसे में खाने के निवाले छोटे-छोटे टुकड़े में टूट नहीं पाते हैं और लार ठीक से नहीं बनती हैं। ऐसी चीजों के सेवन से बचे जिससे कब्ज की समस्या हो सकती हैं। इसके अलावे ज्यादा खाना खाने से , इरिटेबल बाउल सिंड्रोम और अल्सर जैसी समस्या में भी गैस की समस्या ज्यादा रहती हैं जो की डकार का अधिक डकार आने का कारण बनती हैं। बार-बार डकार आना गैस बनना पाचन तन्त्र के खराब होने के संकेत हैं। आइये जानते है की

यह भी पढ़ें कुत्ता काटने पर क्या खाना चाहिए – आहार और इलाज की सम्पूर्ण जानकारी

गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना का इलाज और टिप्स

गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना का इलाज और टिप्स
इलाज और टिप्स

दोस्तों, अधिक धुम्रपान, शराब मौसम में बदलाव आदि के कारण भी एलर्जी और इन्फेक्शन की समस्या होती हैं। साथ ही अगर आपको अक्सर गैस और कब्ज की समस्या हैं तो दोनों चीजों का साथ में होना संभव हैं। ऐसे में कुछ घरेलु उपायों द्वारा इस समस्या का समाधान निकाला जा सकता हैं। नीचे गैस और डकार का घरेलु इलाज और टिप्स दी गए हैं जिसकी सहायता से समस्या से निजात मिलेगा।

1. हल्दी दूध का करें सेवन

हल्दी दूध का सेवन इस समस्या को दूर करता हैं। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होता हैं। रोज हल्दी दूध पीने से प्रतिरक्षा तन्त्र भी मजबूत होती हैं। इससे सर्दी खांसी की समस्या और गले में संक्रमण की समस्या दूर होती हैं। पीसी हुई हल्दी को अजमोदा और शहद के साथ मिक्स कर पीने से भी गले की समस्या का निवारण होता हैं। इसे पीने से गले का सुजन भी कम होता हैं। हल्दी का सेवन पाचन तन्त्र को मजबूत करता हैं। गैस और अल्सर जैसी समस्या में यह लाभदायक हैं।

यह भी पढ़ें हल्दी दूध पीने के फायदे (Haldi Doodh Pine Ke Fayde)

2. खान-पान को सुधारे

कार्बोनेटेड ड्रिंक्स के अधिक सेवन से भी बार-बार डकार की समस्या आती हैं।खाना खाते वक्त जल्दबाजी न करें। धीरे-धीरे और चबाकर खाएं। चबाकर खाने से लार खूब बनता हैं जिससे पाचन में समस्या नहीं आती हैं। पाचन सम्बन्धी समस्या के कारण ही डकार की समस्या होती हैं। साथ ही ध्यान रखें की ज्यादा प्याज, मुली, गोभी और तेल मसाला डकार का कारण बन सकती हैं। खाने में विटामिन सी युक्त खट्टे फल, लहसुन, काली मिर्च, हल्दी आदि जरुर शामिल करें। इससे सर्दी-जुकाम में आराम होगा और गले की समस्या दूर होगी।

3. तुलसी पानी का सेवन करें

तुलसी का काढ़ा बनाकर पीने से न सिर्फ गले की समस्या दूर होगी बल्कि कब्ज और गैस की समस्या भी खत्म होगी। अगर आप भी गले में कुछ अटका हुआ फील करते हैं तो सुबह-शाम कम से कम दो तुलसी का काढ़ा बनाकर पिए। इससे पाचन संबंधी दिक्कत भी दूर होती हैं। पेट में जलन रहने पर भी इसका सेवन किया जा सकता हैं।

यह भी पढ़ें थायराइड में कहां-कहां दर्द होता है – थायराइड के लक्षण और घरेलू उपाय

4. भांप लेना हैं जरुरी

अगर गले में कुछ अटका हुआ सर्दी खांसी या कफ के चलते लगता हैं तो भांप जरुर लें। अत्याधिक कफ के कारण पाचन में भी दिक्कत होती हैं। भांप लेने से कफ पिघलने लगता हैं और जल्द ही बाहर निकल जाता हैं। दिन में 2 बार 10-10 मिनट के लिए गमछी से सर को अच्छी तरह ढककर भांप लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें क्या भाप लेने से चेहरा गोरा होता है सच जानकर हैरान हो जाएंगे

निष्कर्ष – गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना

दोस्तों, इस पोस्ट में मैंने आपको बताया हैं की गले में कुछ अटका सा लगना बार-बार डकार आना कौन सी बीमारी है और इसका घरेलू इलाज क्या हैं। मुझे आशा हैं की आपको आज की यह जानकारी पसंद आयी होगी। ध्यान रहें की यह समस्या ज्यादात्तर खराब पेट और गले में संक्रमण के कारण होती हैं। अत: खान-पान का ध्यान रखें। बाहरी चीजों का सेवन कम करें। इस समस्या में हल्के गुनगुने पानी का सेवन करना ही उचित हैं। फ्रीज का पानी पीने से बचें।

मुझे उम्मीद हैं की आपको आज की यह पोस्ट बेहद पसंद आयी होगी। इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पर शेयर करें।

यह भी पढ़ें

Leave a Comment