पुत्र होने वाले तिल – पुरुष और स्त्री के शरीर पर तिल का महत्व

Spread the love

पुत्र होने वाले तिल – पुरुष और स्त्री के शरीर पर तिल का महत्व – हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, पुरुष और स्त्री के शरीर पर तिल का विशेष महत्व हैं। शरीर के अलग-अलग अंगों पर मौजूद तिल अलग-अलग संकेत देती हैं। कई महिलाएं पुत्र होने वाले तिल के विषय में अक्सर पूछती हैं। आज के इस खास पोस्ट में मैं आपको स्त्री के दाहिने छाती पर तिल होना और दाहिनी हथेली पर तिल होने का मतलब क्या हैं इन सबसे से जुड़ी अनेक जानकारियां देने जा रही हूँ। महिलाओं के शरीर पर उपस्थित तिल शुभ और अशुभ दोनों ही हो सकते हैं। शरीर पर तिल का होना आपके भविष्य और और भाग्य से जुड़ा हुआ हैं। यह आपके चरित्र और गुणों को भी दर्शाती हैं। आइये विस्तार से जानते हैं की पुत्र होने वाले तिल शरीर में कहाँ होते हैं।

पुत्र होने वाले तिल
पुत्र होने वाले तिल

हमारे शरीर के अलग-अलग भागों में उपस्थित तिल विवाह, प्रेम, भाग्य, व्यक्तित्व, सन्तान, जॉब, बिज़नस आदि संबंधी कई जानकारियां देती हैं। हस्तरेखा रेखा शास्त्र कहता हैं हाथों की रेखाएं हमारे वर्तमान और भविष्य से जुड़ी अनेक महत्वपूर्ण घटनाओं चाहे वह शुभ हो या अशुभ की जानकारी देता हैं। हालाँकि आज की यह पोस्ट पुत्र होने वाले तिल से संबंधित हैं इसलिए आइये इस विषय की पूर्ण जानकारी हस्तरेखा रेखा शास्त्र के अनुसार देते हैं।

Also, Read सात घोड़े की तस्वीर किस दिन लगाना चाहिए – सात घोड़े का वॉलपेपर

पुत्र होने वाले तिल

हस्तरेखा शास्त्र में बताया गया हैं की हाथ की सबसे छोटी उंगली पर पुत्र या पुत्री होने के संकेत छिपे रहते हैं। छोटी उंगली के नीचे मौजूद कुछ रेखाओं के माध्यम से यह जाना जा सकता हैं की आपको पुत्री होगी या पुत्र। दरसल इस उंगली के नीचे एक पर्वत हैं जिसे बुध पर्वत कहा जाता हैं। अगर बुध पर्वत पर खड़ी रेखा गाढ़ी हैं तो इसका मतलब हैं की आपको पुत्र होगा। इसके ठीक उलट हल्की रेखाएं बताती हैं की आपको पुत्री रत्न की प्राप्ति होगी।

Also, Read हिचकी रोकने का मंत्र / हिचकी बंद न हो रही तो क्या करे – हिचकी आना शुभ या अशुभ

पुत्र होने वाले तिल – समुद्रशास्त्र

चाहे पुरुष हो या स्त्री, अगर हाथ की सबसे छोटी ऊँगली पर तिल हैं तो यह संकेत हैं की आपको संतान की प्राप्ति होगी। यह तिल संकेत देता हैं की आपकी संतान के जन्म के पश्चात धन, पद, प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। समुद्रशास्त्र में छोटी ऊँगली पर तिल होना बेहद शुभ और पुत्र होने वाले तिल बताया गया हैं।

Also, Read सपने में सड़क पर पैदल चलना और सपने में सड़क पर झाड़ू लगाना क्या संकेत देता हैं – पूरी जानकारी

स्त्री के दाहिने छाती पर तिल होना

स्त्री के शरीर पर तिल का खास महत्व हैं। यदि किसी स्त्री के दाहिने छाती पर तिल हैं तो यह बेहद शुभ और मंगलकारी हैं। स्त्री के दाहिने छाती पर तिल होना पुरुषों के लिए भाग्य के द्वार खोलती हैं। परन्तु अगर यह स्त्री के दाहिने छाती पर स्थित हैं तो यह दर्शाता हैं की आपको आने वाले समय में पुत्र रत्न की प्राप्ति हो सकती हैं।

Also, Read पुराने जूते चप्पल किस दिन फेंकना चाहिए – किस दिन नए जूते चप्पल खरीदना शुभ हैं ?

संतान या पुत्र न होने वाले तिल – इन जगहों पर हैं तिल तो माना जाता हैं अशुभ

1. अगर किसी महिला या पुरुष के संतान रेखा पर तिल मौजूद हैं तो यह संकेत देता हैं की आपको संतान सुख बहुत देरी से मिलेगा
2. अगर संतान रेखा जन्म से ही नहीं हैं या कटी हुई हैं तो यह अशुभ हैं जो संकेत देता हैं की व्यक्ति को पुत्र सुख से वंचित रहना पड़ सकता हैं।
3. संतान रेखाओं पर लाल तिल इशारा करता हैं की बच्चा तो होगा लेकिन उसकी उम्र कम हो सकती हैं।

Also, Read घर में ज्यादा छिपकली का होना शुभ या अशुभ / शुक्रवार को छिपकली गिरने से क्या होता है

महिला की जांघ पर तिल होना

महिला के जांघ पर तिल होना अति शुभ माना गया हैं। शास्त्र कहते हैं की जिन महिलाओं के जांघ पर तिल होते हैं उन्हें अपने पति से विशेष प्रेम प्राप्त होता हैं। उनका पति हर तरह से उन्हें खुश रखते हैं। साथ ही ऐसे तिल राजशाही जीवन जीने के भी संकेत देते हैं। ऐसी महिलाओं को जीवन में कभी भी आर्थिक संकट का सामना करना नहीं पड़ता हैं।

Also, Read माथे पर बाल होना शुभ या अशुभ / माथे पर तिल होना क्या संकेत देता हैं

दाहिने गाल पर तिल होने का मतलब

दाहिने गाल पर तिल होने का मतलब
दाहिने गाल पर तिल होने का मतलब

यदि किसी महिला या पुरुष के दाहिने गाल, नाक या गर्दन आदि पर तिल हैं तो ऐसे लोगों सामान्य जीवन जीते हैं। ऐसे लोगों के जीवन में सुख और दुःख के क्षण आते रहते हैं। हालाँकि ऐसे लोग बेहद प्रभावी माने जाते हैं। दाहिने गाल पर तिल होना शुभ माना जाता हैं क्योकिं ऐसे लोग अत्यंत गरीबी की अवस्था में नहीं होते हैं। जीवन में उतार चढाव होने के बावजूद ऐसे लोग अपने सपनों को पूरा जरुर करते हैं।

Also, Read आठवें महीने में लड़के के लक्षण – बेबी बॉय के 7 प्रमुख लक्षण

निष्कर्ष

इस पोस्ट में मैंने आपको पुत्र होने वाले तिल – पुरुष और स्त्री के शरीर पर तिल का महत्व क्या हैं इसके बारें में बताया हैं। तिल हमारे स्वाभाव और हमारे भविष्य में होने वाली चीजों के संकेत देती हैं। शास्त्र कहते हैं की शरीर के हर अंग में उपस्थित तिल कुछ न कुछ संकेत जरुर देते हैं। हथेली ऊपर उपस्थित तिल कई बार अशुभ संकेत भी देते हैं। स्त्री के दाहिने छाती पर तिल को पुत्र होने वाले तिल माना जाता हैं। यह बेहद शुभ हैं जो संकेत हैं की निकट समय में पुत्र प्राप्ति की सम्भावना हैं।

मुझे उम्मीद हैं की आपको पुत्र होने वाले तिल के साथ पुरुष और स्त्री के शरीर पर कुछ अन्य जगहों पर तिल होना शुभ हैं या अशुभ इसकी जानकारी अच्छी लगी होगी। इस जानकारी को अपने फ्रेंड्स तक जरुर से जरुर शेयर करें।

Also, Read सफेद आंकड़े की जड़ (Safed Aakde Ki Jad) के लाभ और उपाय उड़ा देंगे होश

यह भी पढ़ें सपने में छोटी बच्ची को गोद में लेना – सपने में छोटी बच्ची को हंसते हुए देखना

Also, Read गर्भवती महिला को शिवजी की पूजा करनी चाहिए या नहीं – शिव पूजा का सही समय, नियम और लाभ की जानकारी